ऊधमपुर, जागरण संवाददाता : राजस्थान हो, पंजाब हो या अन्य कोई राज्य जहां पर भाजपा की सरकार नहीं होगी वहां उदयपुर जैसी घटनाएं बढेंगी। यह इतिहास उठा कर देखा जा सकता है। यह आरोप भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता नेता राकेश टिकैत ने उदयपुर घटना पर पूछे सवाल के जवाब में लगाया। वह ऊधमपुर के ओमाड़ा मोड़ गुरुद्वारा में माथा टेकने पहुंचे थे।

श्रीनगर से लौटते समय ऊधमपुर में रुकने के दौरान टिकैत गुरुद्वारा पहुंचे, जहां उन्होंने मीडियाकर्मियों से बातचीत भी की। उदयपुर की घटना के लिए भाजपा को कसूरवार ठहराते हुए टिकैत ने कहा कि केंद्र में बैठे लोग सब करवाते हैं। जब तक उनका राज कायम नहीं होगा, तब तक ऐसी घटनाएं होती रहेंगी। महाराष्ट्र को तोड़ा, महाराष्ट्र में यदि भाजपा के साथ समझौता होता तो शिवसेना बहुत बढ़िया थी। मगर समझौता नहीं हुआ तो शिव सेना को ही तोड़ दिया।

टिकैत ने कहा कि भाजपा की सरकार बड़ी खतरनाक है। यह पूजा पाठ और धर्मकर्म वाले लगते तो हैं, मगर यह बली प्रथा वाले हैं। उन्होंने भाजपा को झगड़ा, तोड़फोड़ कराने में माहिर करार दिया। टिकैत ने कहा कि देश की जनता को भाईचारा कायम रखना चाहती है, मगर सरकार उसमें तोड़फोड़ कर नफरत फैला कर झगड़े में वोट तलाशती है। टिकैत ने कहा कि संविधान में हर धर्म को अपने हिसाब से पूजा का अधिकार है। किसी को भी दूसरे धर्म कोलेकर कोई टिपण्णी नहीं करनी चाहिए।

उदयपुर की घटना में पाकिस्तान का हाथ होने पर पूछे सवाल पर टिकैत ने कहा कि देश में जरा सा कुछ होने पर भाजपा वाले पाकिस्तान का हाथ बता देते हैं। देश में संविधान, धाराएं, पुलिस कोर्ट सब है। हत्या करने वाले के खिलाफ 302 का केस लगा कर अपना काम करें। इसमें पाक क्या कर लेगा और यह क्या कर लेंगे।

टिकैत ने ऊधमपुर और जम्मू कश्मीर के बारे में कहा यहां पर अच्छे लोग हैं। इस शहर सहित पूरे जम्मू कश्मीर को लोग बाहर से देखने आते हैं। यहां पर शांति रहे, कारोबारियों का अच्छा कारोबार चल सके। इसके लिए सरकार को हिमाचल प्रदेश और उतराखंड की तरह होम स्टे वाली नीति लागू करनी चाहिए। जिसके किसानों और गांव में लोगों को आर्थिक लाभ मिले। जम्मू कश्मीर में पर्यटक काफी आते है। यदि सस्ते, बढ़िया और टिकाऊ संसाधन मिलेंगे तो और ज्यादा पर्यटक आएंगे। बड़े होटलों में रुकने से पैसा बड़े लोगों के पास आएगा। गांव के लोगों को लाभ होने से वहब पलायन नहीं करेंगे। चीन सीमा से सटे अन्य गांवों में यही नीति लागू की जाए। इस बार काफी पर्यटक आ रहे हैं। इसके जम्मू कश्मीर को को फायदा हो सकता है।

टिकैत ने कहा कि श्रीनगर से आते समय उन्होने देखा की आठ से नौ दिनों से ट्रक रुके हैं। इसमें सब्जियां, फल होंगे तो नौ दिनों में खराब होने से नुकसान होगा। यह साजिश है यह तो नहीं पता। मगर जम्मू कश्मीर के किसानों को नुकसान पहुंचाया जाए ऐसा तो नहीं होना चाहिए।आठ दिनों तक हाईवे पर ट्रक नहीं रोके जाने चाहिए। जिन ट्रकों में फल, सब्जी व अन्य संवेदनशील खराब होने वाले उत्पाद हो उनको एंबुलेंस की तर्ज पर छो़ड़ा जाना चाहिए और फौरन रास्ता देना चाहिए। उन्होंने जम्मू कश्मीर के किसानों को फल, सब्जी खेत से मंडी तक लाने के लिए ट्रांसपोर्ट सबसिडी देने और माल रास्ते में खराब न होना सुनिश्चित करने की मांग की।

धारा 370 हटने के बाद चुनावों को लेकर पूछे जाने पर टिकैत ने कहा कि जल्द चुनाव होने चाहिए। हर किसी को अपने वोट से अपना नेता और सरकार चुनने का अधिकार है।

रात को ऊधमपुर में रुकने के बाद किसान नेता राकेश टिकैत ओमाड़ा मोड़ स्थित गुरु द्वारा श्री तेग बहादुर साहिब में माथा टेकने पहुंचे। जहां पर गुरुद्वारा के पदाधिकारियों ने सिरोपा भेंट कर सम्मानित किया। इस अवसर पर रंजीत सिंह, पूर्व विधायक बलवंत सिंह मनकोटिया, समनीक भसीन सहित अन्य मौजूद थे। बाद टिकैत कटड़ा वैष्णो देवी दर्शनों के लिए रवाना हो गए।  

Edited By: Rahul Sharma