श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। दक्षिण कश्मीर के चौगाम,काजीगुंड में शनिवार तड़के शुरु हुई मुठभेड़ में पांच आतंकी मारे गए हैं जबकि अन्य आतंकियों को मार गिराने का अभियान जारी है। इस दौरान तीन सुरक्षाकर्मी भी जख्मी हुए हैं। मुठभेड़ में आतंकी ठिकाना बना मकान भी पूरी तरह तबाह हो गया है।

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में शुक्रवार देर रात से जारी मुठभेड़ में सेना को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। काजीगुंड के पास चौगाम में हुई मुठभेड़ में सेना ने पुलिस के साथ मिलकर पांच आतंकियों को मार गिराया। राज्य पुलिस अधिकारियों ने बताया कि अभी कुछ आतंकियों को घेर रखा है। बता दें कि शुक्रवार की रात करीब एक बजे सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़ शुरू हो गई थी। इस मुठभेड़ के बाद बारामुला और काजीगुंड के बीच ट्रेन सेवा को रोक दिया गया है।

जानकारी के अनुसार, सुरक्षाबलों को रात करीब साढ़े बारह बजे पता चला कि चौगाम में कुछ आतंकी छिपे हुए हैं। इसके बाद सेना और पुलिस के संयुक्त दस्ते ने इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया। सुरक्षाबलों ने आतंकियों के छिपे होने के संदेह में कुछ राउंड फायर किए। इसके जवाब में आतंकियों ने भी फायरिंग शुरू कर दी।

इस बीच, आतंकियों की मौत के बाद दक्षिण कश्मीर के विभिन्न हिस्सों में तनाव और हिंसा से पैदा हालात के मददेनजर प्रशासन ने श्रीनगर- बनिहाल के बीच रेल सेवा को बंद करने के अलावा इंटरनेट सेवाओं को भी रोक दिया गया है।

यह मुठभेड़ आधी रात के बाद आज सुबह करीब एक बजे शुरु हुई थी जबकि चौगाम में आतंकियों के छिपे होने का पता चलते ही बीती रात करीब सवा बारह बजे सुरक्षाबलों ने घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान चलाया था। तलाशी लेते हुए जवानों ने एक मकान के पास पहुंचकर जैसे ही एहतियातन हवा में गोली चलाई,अंदर छिपे आतंकियों को लगा कि उन पर गोली चली है और उन्होंने उसी समय जवाबी फायर किया। इससे आतंकियों की उपस्थिति की पुष्टि होने के साथ ही मुठभेड़ श़ुरु हो गई।

हालांकि पुलिस ने पुष्टि नहीं की है, लेकिन संबधित सूत्रों की मानें तो कश्मीर में सक्रिय आतंकियों की मोस्ट वांटेड आतंकियों की सूची में शामिल गुलजार पडर और उसके साथियों के छिपे होने की सूचना पर ही चौगाम में आतंकरोधी अभियान चलाया गया था।

उन्होंने बताया कि तीन आतंकी आज सुबह छह बजे के करीब मारे गए थे जबकि एक आतंकी ने सुरक्षाबलों पर अधांधुुंध गोलियों की बौछार करते हुए घेराबंदी तोड़ भागने का प्रयास किया। इस दौरान वह मकान के बाहरी हिस्से में सुरक्षाबलों की गोलियों से ढेर हो गया। इस बीच, आतंकी ठिकाना बना मकान भी एक बड़े बम धमाके में नष्ट हो गया।

उन्होंने बताया कि साढ़े सात बजे आतंकियों की तरफ से गोलियों की बौछार पूरी तरह बंद हो गई थी और उनका ठिकाना बना मकान भी गिर गया था। करीब सवा आठ बजे सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों के शव को तलाश उन्हें अपने कब्जे में लेने की कार्रवाई शुरु की। लेकिन जैसे ही वह आगे बढ़े, वहां जिंदा बचे आतंकियों ने उन पर दोबारा फायरिंग शुरु कर दी। जवानों ने भी तुरंत अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायर किया। इस दौरान तीन सुरक्षाकर्मी भी जख्मी हुए,लेकिन अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं हुई है।

संबधित अधिकारियों ने बताया कि पांच आतंकी मारे जा चुके हैं। एक या दो आतंकी जिंदा हो सकते हैं। उन्हें मार गिराने का अभियान जारी है। लेकिन अभी तक किसी आतंकी का शव बरामद नहीं कया गया है।अधिकारियों ने बताया कि फिलहाल, मुठभेड़ जारी है।  

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस