जम्मू, जागरण संवाददाता : एक सप्ताह से चल रही जल शक्ति विभाग के अस्थायी कर्मियों की हड़ताल के कारण जम्मू शहर के कई इलाकों में पानी नहीं मिल रहा है। पानी के लिए लाेग दरबदर हो रहे हैं। भीषण गर्मी में दैनिक जरूरत के लिए पानी का इंतजाम करने के लिए लोगों को संघर्ष करना पड़ रहा है। पानी नहीं मिलने से गुस्साए लोग सड़कों पर उतर रहे हैं और प्रदर्शन कर रहे हैं। कर्मचारियों की हड़ताल से शहर के जानीपुर, न्यू प्लाट, बन तालाब, पक्का डंगा, पानी पार्क, सिदड़ा, छन्नी, ट्रांसपोर्ट नगर, नरवाल, सैनिक कालोनी, गंग्याल, डिग्याना, सतवारी, रानी पार्क, डीली, चौआदी, बाहू फोर्ट, कासिम नगर क्षेत्र में पेयजल के लिए हाहाकार की स्थिति बनी हुई है।

इन क्षेत्रों में तीसरे-चाैथे दिन थोड़ा बहुत पानी आता है। जबकि इनमें कई इलाके ऐसे हैं, जहां कई दिन से नलके मेें एक बूंद भी पानी नहीं आया है। सुबह से ही लोग बाल्टियां, छोटे ड्रम व दूसरे बर्तन लेकर पानी के लिए आसपास के क्षेत्रों में निकल पड़ते हैं। कई इलाकों में तो छह सात दिनों से पानी ही नहीं आया। ऐसे में लोग परेशान हैं। बाहू क्षेत्र के छपड़ी वाले मोहल्ले में पानी पिछले आठ दिनों से नहीं आया। यह लाेग बेहद परेशान हैं। कई बार जलशक्ति विभाग को अपनी कहानी सुना चुके हैं, मगर कोई हल नहीं निकल रहा।

वहीं सतवारी नरवाल इलाके में लोग रात 12 बजे तक पानी के लिए संघर्ष करते हुए दिखते हैं। न्यू प्लाट में भी दो तीन दिनों बाद पानी आ रहा है और ऐसी स्थिति जानीपुर व रूपनगर की है। वहीं कई इलाकों में लोगों को टैंकर का पानी खरीदने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

जानीपुर में लोग उतरे सड़क पर : कई दिनों से पानी नहीं आने को लेकर परेशान हुए जानीपुर के लोग बुधवार को सड़क पर उतर आए और सड़क बंद कर प्रदर्शन किया। लोगों का कहना है कि इतनी भीषण गर्मी पड़ रही है और लोगों को पीने का पानी भी नहीं मिल रहा। ऐसा लगता है कि मानो प्रशासन नाम की कोई चीज ही नहीं। वार्ड न. 36 के कारपोरेटर शुभाष शर्मा, वार्ड नंबर 37 की कारपोरेटर सुनीता गुप्ता ने जबरदस्त प्रदर्शन किया और नारेबाजी की। इन लोगों ने कहा कि न ही बिजली मिल रही है और न ही लोगों के घरों में पानी आ रहा है। पानी नहीं मिलने के विरोध में लोगों ने ट्रैफिक रोक दी और मांग की कि प्रशासन लोगों की परेशानियों को समझे।

48 घंटे हड़ताल बढ़ने से और बढ़ी परेशानी : जलशक्ति विभाग के अस्थायी कर्मचारियों की हड़ताल बुधवार को 48 घंटे के लिए बढ़ा देने की घोषणा किए जाने के बाद परेशानी और बढ़ गई है। अब शुक्रवार रात 8 बजे तक जलशक्ति विभाग के अस्थायी कर्मी हड़ताल पर रहेंगे। बुधवार को प्रशासनिक अधिकारियों से बैठक नहीं हो पाई। हालांकि एसएसपी चंदन कोहली ने हड़ताली कर्मचारियों को अपने कार्यालय में बुलाया और कर्मचारियों की मांगों को नोट किया, लेकिन प्रशासन की ओर से कोई बैठक नहीं हुई और न ही इन कर्मचारियों की मांगों पर कोई चर्चा हुई। ऐसे में पीएचई इंप्लाइज यूनाइटेड फेडरेशन ने अपनी हड़ताल 48 घंटे के लिए बढ़ा दी।

Edited By: Lokesh Chandra Mishra