जम्मू, जागरण संवाददाता : लोक समस्याओं का उजागर करता एवं सामाजिक कुरूतियों से रुबरु करवाता लोकप्रिय डोगरी हास्य नाटक ‘भाईया जी’ का प्रसारण 22 अप्रैल वीरवार से काशिर चैनल से होगा। यह हास्य नाटक 2001-02 में जम्मू दूरदर्शन से प्रसारित होता रहा है। यह नाटक जम्मू दूरदर्शन से प्रसारित सबसे लोकप्रिय नाटकों में से रहा है। जिसका निर्देशन डा. नसीब सिंह मंहास ने किया है। इसे साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित शिव मेहता ने लिखा है। नाटक में जम्मू के प्रसिद्ध कलाकार जनक खजूरिया, सुरेंद्र गोयल, त्रिलोतमा जम्वाल, नीलम पठानिया, संजय कपिल आदि शामिल हैं।

निदेशक प्रोग्राम काशिर चैनल डा. नसीब सिंह मंहास ने बताया कि काशिर चैनल से सुबह 10.30 से 11.00 बजे के बीच डोगरी कार्यक्रमों का प्रसारण होता है। इन दिनों जबकि नई प्रोडक्शन नहीं हो पा रही है तो पुराने लोकप्रिय कार्यक्रमों का पुण: प्रसारण किया जा रहा है। यह भी कोशिश रहेगी कि डोगरी कार्यक्रमों की प्रसारण अवधि आधे घंटे से एक घंटे की की जाए।दर्शिों की लंबे समय से मांग की थी कि डोगरी के लोकप्रिय धारावाहिकों का प्रसारण नहीं किया जाता।अब निर्णय लिया गया है कि कल से लोकप्रिय नाटक भाईया जी का प्रसारण किया जाए।

वहीं डुग्गर मंच के अध्यक्ष मोहन सिंह ने कहा कि काशिर चैनल से प्रसारित डोगरी कार्यक्रमों की आवाज ही नहीं होती। जबकि दूसरे चैनलों पर प्रसारण ठीक चल रहा होता है। उन्होंने आरोप लगाया कि साजिश के तहत डोगरी कार्यक्रमों के दौरान इस तरह की तकनीकी खराबियां पैदा कर दी जाती हैं कि इस दौरान कोई चैनल लगाए ही न।

इस शिकायत के जवाब में निदेशक काशिर चैनल डा. नसीब सिंह मंहास ने कहा कि इस तकनीकी खराबी को लेकर उन्होंने डीडीजीई रमणा से बात की है और उन्होंने ऐसी किसी समस्या का खंडन करते हुए विश्वास जताया है कि अगर कहीं कोई परेशानी है तो इसका जल्द समाधान होगा। प्रसारण में किसी प्रकार कोई तकनीकी खराबी ठीक करना उनका दायित्व है। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप