जागरण संवाददाता, जम्मू : संगीत, नृत्य, साहित्य, रंगमंच प्रतियोगिताओं का जम्मू यूनिवर्सिटी का वार्षिक समारोह डिस्प्ले योर टैलेंट शुक्रवार से शुरू होने जा रहा है। समारोह में 32 प्रतियोगिताओं में जम्मू यूनिवर्सिटी से मान्यता प्राप्त कलाकारों के हजार से ज्यादा विद्यार्थी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह 28 सितंबर को जनरल जोरावर ¨सह ऑडिटोरियम में होगा।

डिस्प्ले योर टैलेंट 2018-19 का आगाज संगीत प्रतियोगिताओं से होगा। पहले दिन शुक्रवार को पाश्चात्य संगीत एकल, दोपहर बाद वेस्टर्न ग्रुप मुकाबले होंगे। 17 सितंबर को भारतीय संगीत समूह गान एवं लोक वाद्य यंत्र वादन मुकाबले होंगे। 18 सितंबर को सुगम संगीत एकल मुकाबले होने तय हुए हैं। 19 सितंबर को शास्त्रीय गायन मुकाबले होंगे। इसके बाद सेमी क्लासिकल मुकाबले होने हैं। इसी दिन एकल शास्त्रीय गायन एवं शास्त्रीय वाद्य यंत्र मुकाबले होने तय हुए हैं।

रंगमंच मुकाबले 24 सितंबर से शुरू होने हैं। पहले दिन माइम, मोनो, मिमिक्री मुकाबले होंगे। प्रत्येक प्रतिभागी को पांच मिनट का समय मिलेगा। माइम में अधिक से अधिक छह प्रतिभागी। दो एकमंपनिस्ट भाग ले सकते हैं। 25 सितंबर को स्किट और 26 सितंबर को वन एक्ट प्ले होंगे। कलाकारों को दस मिनट के अंदर अपना शो पूरा करना होगा।

फाइन आ‌र्ट्स मुकाबले 21 सितंबर से शुरू होंगे। पहले क्ले मॉड¨लग जबकि दूसरे सत्र में इंस्टालेशन मुकाबले होने हैं। 22 सितंबर को फोटोग्राफी, चित्रकला एवं फ्लावर अरेंजमेंट प्रतियोगिता होगी। 23 सितंबर को स्के¨चग और पोस्टर मे¨कग मुकाबले होंगे। 24 सितंबर को कार्टू¨नग मुकाबले होने हैं। 27 सितंबर को रंगोली मुकाबले होने हैं। कविता पाठ प्रतियोगिता 15 सितंबर को होनी है। भाषण प्रतियोगिता 20 सितंबर को होगी। प्रतिभागी को पांच मिनट में अपनी बात समाप्त करनी होगी। सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी 22 सितंबर को होगी। 27 सितंबर को निबंध लेखन, कहानी लेखन प्रतियोगिता होगी। वाद विवाद प्रतियोगिता 27 सितंबर को होगी। हर प्रतिभागी को अपने विचार रखने के लिए पांच मिनट का समय दिया जाएगा।

डांस मुकाबले 20 सितंबर से शुरू होंगे। पहले दिन क्लासिकल डांस प्रतियोगिता होगी। 21 को सृजनात्मक नृत्य प्रतियोगिता होगी। 28 सितंबर को लोक नृत्य मुकाबले होंगे। हर प्रतिभागी टीम दस कलाकारों को रख सकती है।

डीन स्टूडेंट वेलफेयर जम्मू यूनिवर्सिटी प्रो. परमेश्वरी शर्मा ने बताया कि डिस्प्ले योर टैलेंट प्रतियोगिता में विद्यार्थियों को तय नियमों अनुसार चलना होगा। निर्णायक दल का निर्णय ही अंतिम व मान्य होगा। सभी प्रतिभागियों को अनुशासन बनाए रखने का विशेष ध्यान रखना होगा। इन्हीं प्रतियोगिताओं के सर्वश्रेष्ठ कलाकारों को नार्थ जोन कल्चरल फेस्टिवल में भाग लेने का मौका मिलेगा।

Posted By: Jagran