जम्मू, जागरण संवाददाता। जम्मू-कश्मीर में पांच अगस्त से मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद हैं। इतनी लंबी अवधि से इंटरनेट बंद होने से ब्रॉडबैंड की बहार फिर से लौट आई है। ब्रॉडबैंड का कनेक्शन पाने के लिए भारी संख्या में लोग आवेदन दे रहे हैं और अब तो आलम यह हो गया है कि जिसे एक महीना पहले कोई पूछता नहीं था, वो कनेक्शन पाने के लिए लोगों को एक से दो हफ्तों तक का इंतजार करना पड़ रहा है।

जम्मू में भारत संचार निगम लिमिटेड की ओर से ब्रॉडबैंड कनेक्शन उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। इसके अलावा जियो की ओर से भी जिले के कुछ इलाकों में फाइबर कनेक्शन दिए जा रहे हैं। मौजूदा समय में बीएसएनएल के पास ब्रॉडबैंड कनेक्शन के लिए रोजाना करीब 500 आवेदन आ रहे हैं तो वहीं जियो के पास आने वाले आवेदनों की संख्या करीब एक हजार है। इतनी भारी संख्या में आवेदन आने से कनेक्शन लगाने में समय लग रहा है। जिन लोगों के पास बीएसएनएल का लैंड लाइन फोन पहले से लगा है, वहां तो एक हफ्ते तक ब्रॉडबैंड कनेक्शन लग पा रहा है लेकिन जिनके पास लैंड लाइन फोन का कनेक्शन भी नहीं, उन्हें लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। उधर, जियो ने अभी केवल गांधी नगर व साथ लगते कुछ इलाकों में ही अपनी सेवाएं ट्रायल के तौर पर शुरू की है और पुराने शहर में ये सेवाएं जनवरी तक उपलब्ध होने की उम्मीद है।

बीएसएनएल ब्रॉडबैंड पैक

  • ब्राडबैंड 45जीबी : यह प्लान 99 रुपये प्रति माह में मिलेगा। इसमें बीस एमबीपीएस स्पीड के साथ रोजाना डेढ़ जीबी डाटा होगा।
  • ब्रॉडबैंड 150जीबी : यह प्लान 199 रुपये प्रति माह में मिलेगा। इसमें बीस एमबीपीएस स्पीड के साथ रोजाना पांच जीबी डाटा होगा।
  • ब्रॉडबैंड 300जीबी : यह प्लान 299 रुपये प्रति माह में मिलेगा। इसमें बीस एमबीपीएस स्पीड के साथ रोजाना दस जीबी डाटा होगा।
  • ब्रॉडबैंड 600जीबी : यह प्लान 491 रुपये प्रति माह में मिलेगा। इसमें रोजाना बीस जीबी डाटा होगा। खास बात यह है कि डाटा स्पीड बीस एमबीपीएस होगी।

पांच सितंबर को लांच होगा जियो गीगा फाइबर

एक ही कनेक्शन लेने पर टीवी, लैंड लाइन फोन व हाई स्पीड वाई-फाई का वादा लेकर जियो गीगा फाइबर पांच सितंबर को व्यावसायिक स्तर पर लांच हो रहा है। कंपनी 700 रुपये प्रति माह में बेस प्लान शुरू कर रही है जिसमें 100एमबीपीएस स्पीड पर 100 जीबी डाटा उपलब्ध रहेगा।

जम्मू-कश्मीर में बीएसएनएल के है एक लाख कनेक्शन

बीएसएनएल के जम्मू-कश्मीर में करीब एक लाख ब्रॉडबैंड कनेक्शन हैं। जियो की ओर से 4जी लांच करने के बाद इसमें कुछ कमी आई थी लेकिन पांच अगस्त को मोबाइल इंटरनेट बंद होने से ब्रॉडबैंड की मांग काफी बढ़ गई है। जियो फाइबर चूंकि इस समय कुछ सीमित क्षेत्रों में ही उपलब्ध है, लिहाजा लोगों के पास इस समय बीएसएनएल ही एकमात्र विकल्प है। विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पांच अगस्त के बाद अब तक दस हजार के करीब नए कनेक्शन जारी हुए हैं।

नवंबर में ही मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल होने की उम्मीद

जम्मू-कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं कब बहाल होंगी, इस पर आधिकारिक स्तर पर कुछ भी स्पष्ट नहीं है। पांच अगस्त के बाद जम्मू संभाग के पांच जिलों में एक दिन के लिए यह सेवाएं बहाल की गई थीं लेकिन उसके बाद से सेवा बंद है। ऐसे में हर तरफ यह चर्चा है कि अब तो 31 अक्टूबर के बाद ही मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बहाल होंगी। लोगों में यह चर्चा है कि जम्मू-कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद अगर हालात यूं ही सामान्य रहे तो शायद जम्मू में 4जी मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल हो। यहीं कारण है कि लोगों में ब्रॉडबैंड कनेक्शन लगवाने की होड़ मची है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस