जम्मू, जेएनएन। जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ में शुक्रवार को एक मिनी बस चिनाब नदी में गिर गई। हादसे में 17 लोगों की मौत हो गई, जबकि 16 अन्य घायल हो गए। घायलों को नजदीकी अस्पताल में दाखिल कराया गया है। पुलिस मामले की जांच-पड़ताल कर रही है। 

जानकारी के मुताबिक, मचैल यात्रा के दौरान किश्तवाड़ में हुए दो बड़े हादसों को किश्तवाड़ के लोग भूल नहीं पाए थे, कि शुक्रवार को एक और बड़े वाहन हादसे ने 17 लोगों की जिंदगी के चिराग बुझा दिया। हादसे में कुल 16 लोग घायल हो गए। जिनमें से चार को गंभीर हालत में एयरलिफ्ट कर सरकारी मेडिकल कॉलेज जम्मू पहुंचाया गया है। हादसा किश्तवाड़ से करीब 20 किलोमीटर दूर ठकुराई इलाके में सुबह 8.45 बजे उस समय हुआ, जब यात्रियों को लेकर मिनी बस नंबर जेके17-0662 केशवान से किश्तवाड़ की तरफ आ रही थी। बताया जा रहा है कि मेटाडोर में 25 यात्री सवार थे। ठकुराई इलाके में जर्जर सड़क की वजह से मिनी बस चालक के नियंत्रण से बाहर हो गई और सड़क से करीब 500 मीटर नीचे खाई में चिनाब के पास जा गिरी।

इतनी ज्यादा ऊंचाई से गिरने की वजह से मिनी बस के परखच्चे उड़ गए। कुछ यात्रियों ने मेटाडोर को गिरता देख बाहर छलांग लगा दी। जिससे वह बच तो गए मगर घायल हो गए। हादसे के बाद सड़क से गुजर रहे छोटे निजी यात्री वाहनों में सवार लोगों ने हादसे के बारे में पुलिस और प्रशासन को सूचित किया। जिसके बाद सबसे सबसे पहले पास स्थित भंडारकूट से 11 राष्ट्रीय राइफल के जवान और अधिकारी मौके पर पहुंचे। इसके बाद सरकारी व समाज सेवी संगठनों की तकरीबन 10 एंबुलेंस भी कुछ ही समय में पहुंच गई।

किश्तवाड़ के ठकुराई इलाके में मिनी बस के गिरने वाली जगह पर राहत और बचाव अभियान में जुटे बचाव दल के सदस्य।

इसके बाद पुलिस, रेड क्रास सहित अन्य बचाव दल मौके पर पहुंच गए और राहत अभियान में जुट गए। सूचना मिलते ही डीसी किश्तवाड़ अंग्रेज सिंह राणा, एसएसपी किश्तवाड़ राजेंद्र गुप्ता, सीएमओ किश्तवाड़ के अलावा पुलिस, प्रशासन और सेना के अधिकारी मौके पर पहुंच गए।

सबसे पहले बचाव दल ने हादसे में जीवित बचे घायलों को खाई से निकाल कर किश्तवाड़ जिला अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद शवों को निकालने का काम शुरु हुआ। इस हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई है। जिसमें से आठ की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि छह ने किश्तवाड़ जिला अस्पताल ले जाते समय और वहां पर उपचार के दौरान दम तोड़ा। हादसे में 11 लोग घायल हो गए हैं। जिसमें से 4 को गंभीर हालत में सेना और पवन हंस के हेलीकॉप्टरों से एयरलिफ्ट कर जम्मू रेफर किया गया है।

गौरतलब है कि इससे पहले पिछले महीने की 20 अगस्त को कुलीगढ़ में हुए बस हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद 21 अगस्त को मचैल यात्रियों की इक्को वैन खाई में गिरने से 12 मचैल यात्रियों की मौत हो गई थी।

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप