जागरण संवाददाता, जम्मू : शहर के शालामार चौक के पास एक प्लाट से बुधवार को मिले मृत नवजात के अभिभावकों की पुलिस ने पहचान कर ली है। एसएमजीएस अस्पताल में पत्नी को मृत बच्चा पैदा होने पर पिता ने उसका शव पास में ही एक प्लाट में फेंक दिया था। इस मामले में नवजात के पिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। महिला की हालत ठीक नहीं होने से उससे पूछताछ नहीं हो सकी है। गौरतलब है कि बुधवार को शालामार चौक के दुकानदारों ने प्लाट में नवजात के शव को देखने के बाद पुलिस को सूचित किया था, जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की।

वीरवार को पुलिस ने एसएमजीएस अस्पताल में कुछ दिनों में जन्मे बच्चों के रिकॉर्ड खंगाले। उन्हें पता चला कि 21 सितंबर की रात 11:55 बजे दोमाना के मढ़ इलाके में रहने वाली अंजना देवी पत्नी जगदीश कुमार को मृत बच्चा पैदा हुआ था। डॉक्टरों ने मृत बच्चे को उसके अभिभावकों को सौंप दिया था। चौकी प्रभारी सैमसंग भट्टी ने बताया कि अस्पताल के रिकॉर्ड में दंपति का मोबाइल नंबर लिखा था, जिस पर फोन कर महिला के पति जगदीश कुमार को पूछताछ के लिए सिटी थाने बुलाया गया। पूछताछ में उसने माना कि मृत बच्चा पैदा होने पर उसने उसका शव खाली प्लाट में फेंक दिया था। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। अभी आरोपित जगदीश की पत्नी की हालत ठीक नहीं है, इसलिए उसके बयान बाद में दर्ज किए जाएंगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस