जम्मू, राज्य ब्यूरो : जम्मू कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए अब फिर से परीक्षाएं आनलाइन करवाने की तैयारी शुरू हो गई है। इस समय जम्मू कश्मीर में उच्च शिक्षण संस्थान अगले आदेश तक बंद हैं। कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए करीब एक महीना पहले उच्च शिक्षण संस्थानों को बंद करने के आदेश दिए गए थे। स्कूल तो पिछले दो साल से अभी तक खुले ही नहीं हैं। जम्मू विश्वविद्यालय, कश्मीर विश्वविद्यालय, क्लस्टर विश्वविद्यालय जम्मू और क्लस्टर विश्वविद्यालय श्रीनगर के अधीन डिग्री कालेज आते है।

जिस तरह से कोरोना की स्थिति बन रही है। ऐसे में आने वाले दो तीन महीनों में कालेज या विश्वविद्यालय क्लासरूम पढ़ाई के लिए खुलने वाले नहीं है। इसलिए विश्वविद्यालयों ने विभिन्न अंडर ग्रेजुएट व पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स की परीक्षाएं आनलाइन करवाने की तैयारी शुरू कर दी है ताकि समय पर परीक्षाएं करवा कर परिणाम निकाला जाए। नए अकादमिक सत्र में तो पहले से ही छह महीने से अधिक की देरी हो चुकी है। विद्यार्थियों की कक्षाएं आनलाइन तरीके से लग रही है। ऐसे में अगर फरवरी या मार्च में परीक्षाएं होती है तो विद्यार्थी ऑफलाइन परीक्षाएं देने को तैयार नहीं है। इस मामले को लेकर जम्मू विश्वविद्यालय के दूरस्थ शिक्षा निदेशालय ने परीक्षाएं स्थगित की है। विद्यार्थी आनलाइन परीक्षाएं करवाने की मांग कर रहे हैैं।

हालांकि जम्मू विश्वविद्यालय समेत अन्य विश्वविद्यालयों ने ऑफलाइन परीक्षाएं करवाने की तैयारी की है जिसके धरी की धरी रह जाने की संभावना है। पिछले साल भी अंडर ग्रेजुएट से लेकर पोस्ट ग्रेजुएट की परीक्षाएं आनलाइन ही करवाई गई थी। जम्मू विश्वविद्यालय, केंद्रीय विश्वविद्यालय जम्मू्, श्री माता वैष्णो देवी विश्वविद्यालय में कई विद्यार्थी कोरोना संक्रमित पाए गए थे जिसके बाद आनन फानन में विश्वविद्यालयों को बंद कर दिया गया था। सभी विद्यार्थियों को घर भेज दिया गया था। जम्मू विश्वविद्यालय चार दिन के बाद सोमवार को खुल रहा है मगर सिर्फ प्रशासनिक, परीक्षा या जरूरी कामकाज के लिए। कक्षाएं आनलाइन ही चलेगी।

Edited By: Vikas Abrol