जागरण संवाददाता, जम्मू : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की जम्मू कश्मीर इकाई ने आरएसएस लद्दाख नाम के ट्वीटर हैंडल से किए गए ट्वीट को खारिज कर दिया है। इकाई ने इसे फर्जी ट्वीटर अकाउंट बताया है। इस संबंध में साइबर पुलिस स्टेशन में शिकायत की गई है। संघ के जम्मू कश्मीर प्रांत के प्रचार प्रमुख राजन जोशी ने संघ को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। कुछ लोगों ने आरएसएस लद्दाख के नाम से फर्जी ट्वीटर अकाउंट दो जून को बनाया और तीन जून को इससे पहला ट्वीट किया गया। आरएसएस लद्दाख नाम से संघ का कोई ट्वीटर हैंडल नहीं है। संघ का देश में केवल एक ही आधिकारिक ट्वीटर हैंडल आरएसएस ओआरजी है। उन्होंने कहा कि पहला ट्वीट शाम छह बजकर आठ मिनट पर किया गया। इसको पहली बार इकबाल अंसारी नाम के शख्स ने अमेरिका से रिट्वीट किया गया और बाद में इसे आगे बढ़ाया गया। उनका कहना है कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि इस ट्वीटर हैंडल को जिस वीपीएन एड्रेस के जरिए चलाया जा रहा था। वह पाकिस्तान से जुड़ा हुआ था। ऐसी जानकारी उन्हें जांच एजेंसियों के जरिए मिली है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस