राज्य ब्यूरो, जम्मू : पेट्रोल, डीजल के दाम में लगातार हो रही वृद्धि और बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर कांग्रेस ने केंद्र सरकार को घेरने के लिए अपना आंदोलन तेज कर दिया है। बुधवार को पार्टी की तरफ से महेशपुरा चौक पर प्रदर्शन के बाद जब कार्यकर्ता सचिवालय की तरफ बढ़ने लगे तो उन्हें रोकने के लिए पुलिसकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। इस दौरान आगे बढ़ रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस में धक्कामुक्की भी हुई। पिछले दिनों हुए देशव्यापी आंदोलन के बाद अब कांग्रेस पार्टी पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने और महंगाई के मुद्दे पर छोटे शहरों और कस्बों में आंदोलन का विस्तार करने में जुट गई है। इसके जरिये कांग्रेस पार्टी अपना खोया जनाधार वापस पाने का प्रयास कर रही है। इसी क्रम में बुधवार को जम्मू शहर के महेशपुरा चौक पर जम्मू पश्चिम, बख्शी नगर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी की तरफ से आयोजित विरोध प्रदर्शन में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कई नेता शामिल हुए।

प्रदर्शन में शामिल कार्यकर्ताओं ने भाजपा और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए कहा कि डीजल के दाम पेट्रोल के बराबर पहुंच गए हैं। ऐसे में आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में भी बढ़ोतरी हो रही है, लेकिन सरकार कुछ नहीं कर रही है। पूर्व मंत्री रमण भल्ला ने कहा कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रोजाना ही बढ़ोतरी हो रही है। इससे मध्य वर्ग और गरीब सबसे ज्यादा परेशान है। डीजल के दाम बढ़ने का असर हर जगह दिखाई दे रहा है। आवश्यक वस्तुओं के दाम बढ़ गए है। महंगाई ने कमर तोड़ कर रख दी है। कोरोना से चुनौती का सामना कर रहे लोगों के बिजनेस ठप हो चुके हैं। रोजगार छिनते जा रहे हैं। योगेश साहनी ने कहा कि इस समय देश आर्थिक तंगी से गुजर रहा है। कोरोना से लोग परेशान हैं। जब राहत का समय है, तो पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा दिए गए हैं। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रविद्र शर्मा ने कहा कि भाजपा जब सत्ता में नहीं होती है तो वह महंगाई के खिलाफ आसमान सिर पर उठा लेती है, लेकिन अब उसके नेता चुप्पी साधे बैठे हैं। महंगाई से किसानों, दिहाड़ीदारों के लिए दो जून की रोटी का जुगाड़ करना भी मुश्किल हो गया है। छोटे वर्ग के व्यापारियों के लिए भी गुजर बसर करना मुश्किल हो गया है। उन्होंने कहा कि वे सरकार को नींद से जगाने के लिए अब हर गांव-गली कूचे में लोगों को एकजुट करेंगे। --------------

प्रदर्शन के चलते सड़क पर लगा जाम

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने महेशपुरा चौक पर प्रदर्शन के बाद जब सचिवालय की तरफ बढ़ने का प्रयास किया, लेकिन पहले से वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोकना चाहा। इस दौरान दोनों तरफ से धक्कामुक्की भी हुई। इसके चलते सड़क पर आवाजाही प्रभावित होने से वाहनों की कतार लग गई। इस दौरान कार्यकर्ता आगे बढ़ने का प्रयास करते रहे, लेकिन पुलिसकर्मियों ने उनको वहीं रोके रखा। बाद में पार्टी के नेताओं ने जम्मू पश्चिम के तहसीलदार के जरिये भारत के राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा। ज्ञापन में कहा गया कि देश पहले से ही कोरोना से जूझ रहा है और ऐसे में पेट्रोल, डीजल के दाम में बढ़ोतरी जनता के साथ सरासर नाइंसाफी है। खाद्य पदार्थो के दाम आसमान छू रहे हैं। ऐसे में राहत देने बजाय सरकार पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ा रही है। उन्होंने राष्ट्रपति से मांग की कि महंगाई पर काबू पाने के लिए प्रयास होने चाहिए।

-----------------

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम कम होने पर भी दाम बढ़ा रही सरकार

फोटो नंबर 3 सहित

संवाद सहयोगी, विजयपुर: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बुधवार को पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने पर केंद्र सरकार के खिलाफ विजयपुर में प्रदर्शन किया। कांग्रेस नेता राजन शर्मा के नेतृत्व में हुए प्रदर्शन में शारीरिक दूरी बनाकर कार्यकर्ताओं ने भाजपा और मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस मौके पर कांग्रेस की तरफ से भारत के राष्ट्रपति के नाम विजयपुर के एसडीएम चंद्रप्रकाश कोतवाल को ज्ञापन सौंपा गया। पार्टी नेता राजन शर्मा ने कहा के अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम कम हैं, इसके बावजूद केंद्र की मोदी सरकार पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाकर जनता पर बोझ डाल रही है। इसे कांग्रेस सहन नहीं करेगी। प्रदर्शन में आशीष शर्मा, विशाल वर्मा, कुलवीर चौधरी, सुवेश शर्मा, यशपाल आदि शामिल रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021