मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

राज्य ब्यूरो, जम्मू : अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव और पार्टी की जम्मू-कश्मीर मामलों की प्रधान अंबिका सोनी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे केंद्र व राज्य सरकार की नाकामियों को उजागर करें। राज्य के लोगों में पीडीपी-भाजपा गठबंधन सरकार के प्रति गुस्सा है। कांग्रेस ही ऐसी पार्टी है, जो अपनी धर्मनिरपेक्षता के कारण राज्य के तीनों क्षेत्रों के लोगों को मंजूर है।

दो दिवसीय जम्मू दौरे पर पहुंची अंबिका सोनी ने प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी के प्रधान जीए मीर सहित अन्य पदाधिकारियों के साथ संगठन की गतिविधियों पर विचार विमर्श किया। सोनी ने कहा कि कार्यकर्ता पार्टी की रीढ़ की हड्डी है और ब्लॉक प्रधान स्तंभ है। पार्टी को मजबूत करने में युवाओें की अहम भूमिका है। इसलिए पार्टी के प्रधान राहुल गांधी पार्टी में अधिक से अधिक युवाओ को शामिल कर रहे हैं। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि वे एकजुटता दिखाते हुए पार्टी को मजबूत बनाएं और सरकार की नाकामियों को लोगों तक पहुंचाएं। केंद्र व राज्य सरकार लोगों की आकांक्षाओं पर पूरा उतरने में नाकाम रही है। उन्होंने उम्मीद जताई कि पार्टी मजबूत होकर उभरेगी और अगले विधानसभा चुनाव जीतकर राज्य में सरकार बनाएगी। इससे पहले प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय शहीदी चौक पहुंचने पर अंबिका सोनी का नेताओं व कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया।

अंबिका सोनी ने पार्टी के वरिष्ठ नेता स्वर्गीय अनिल चोपड़ा को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर दो मिनट का मौन रखकर दिवंगत नेता को याद किया गया। इससे पहले प्रदेश प्रधान जीए मीर ने अंबिका सोनी को जम्मू-कश्मीर के मौजूदा सुरक्षा हालात, पार्टी की संगठनात्मक गतिविधियों पर विचार विमर्श किया। उन्होंने पार्टी के नए ब्लॉक प्रधानों के साथ अलग से बैठक कर उनकी समस्याएं सुनीं और पार्टी को ब्लॉक स्तर पर मजबूत करने पर जोर दिया।

बैठक में कांग्रेस विधायक दल के नेता नवांग रिगजिन जोरा, शाम लाल शर्मा, पूर्व सांसद मदन लाल शर्मा, पूर्व उपमुख्यमंत्री ताराचंद, पूर्व मंत्री रमन भल्ला, मुलाराम, कांता भान, मुख्य प्रवक्ता र¨वद्र शर्मा, शब्बीर अहमद खान, मंजीत ¨सह, विक्रम मल्होत्रा व अन्य नेता शामिल थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप