ऊधमपुर, अमित माही। जम्मू से 112 किलोमीटर दूर और ऊधमपुर से 46 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है देश और दुनिया का प्रसिद्ध लोकप्रिय पर्यटन स्थल पत्नीटॉप। सर्दियों में जहां सैलानियां यहां बर्फबारी का आनंद लेने पहुंचते हैं तो गर्मी के सीजन में झुलसा देने वाली गर्मी से राहत पाने आते हैं। नैसर्गिक सौंदर्य से परिपूर्ण पत्नीटॉप को पहाड़ों की रानी भी कहा जाता है।

यह प्रसिद्ध पहाड़ी रिसॉर्ट समुद्र तल से 2024 मीटर की ऊंचाई पर खूबसूरत पठार पर बना है। पुराने जम्मू श्रीनगर हाईवे के किनारे स्थित पत्नीटॉप देवदार के घने जंगलों से घिरा खूबसूरत पिकनिक स्पॉट है। यहां से चिनाब के साथ पहाड़ों के मनोहारी दृश्य नजर आते हैं। पत्नीटॉप में तीन ताजे पानी के झरने हैं। ऐसा माना जाता है कि यहां का पानी औषधीय गुणों से भरपूर है।

सर्दियों में यह आमतौर पर बर्फ की सफेद चादर ओड़ लेता है। जिस पर स्कीइंग, स्लेजिंग सहित कई स्नो गेम्स करवाई जाती है। प्राकृतिक आकर्षण, जलवायु, देवदार के जंगलों और हरे-भरे आवरण में किसी से पीछे नहीं है। गर्मियों में सैलानी यहां पर धूप और गर्मी से राहत पाने के लिए आते हैं। सैलानियों के ठहरने के लिए यहां पर 40 छोटे-बड़ेग होटल हैं। इसके अलावा जेकेटीडीसी की हट्स व होटल भी हैं। पत्नीटॉप के अलावा कुद और सनासर में होटल व हट्स हैं। इसके अलावा पत्नीटॉप में केवल कार भी है। जिसमें बैठ कर सैलानी आसमान से पहाड़ों की रानी की खूबसूरती को निहार सकते हैं।

आओ बताएं क्या-क्या है पत्नीटॉप और इसके आसपास:

  • यहां स्थित है लोगों की आस्था का केंद्र छह शताब्दी पुराना नाग मंदिर
  • 19 किलोमीटर दूर स्थित सनासर झील व उड़ान भरता पैरा ग्लाइडर
  • देवदारों के पेड़ों के बीच बनी हट्स
  • चिल्ड्रेन पार्क में घूमते सैलानी।
  • बच्चों के मनोरंजन के लिए लगाया गया जंपिंग हाउस व अन्य चीजें।
  • सनासर झील में चलते शिकारा।
  • पत्नीटॉप सनासर मार्ग पर स्थित नत्थाटॉप, यहां पर भी बड़ी संख्या में सैलानी पहुंचते हैं।
  • पत्नीटॉप सनासर मार्ग पर स्थित नत्थाटॉप से नजर आता सुंदर नजारा।
  • पत्नीटॉप में स्थित विश्व स्तरीय केबल कार।

ऐसे पहुंचा जा सकता है यहां

जम्मू और ऊधमपुर से पत्नीटॉप तक बस या टैक्सी से पहुंचा जा सकता है। जम्मू से तकरीबन 3 और ऊधमपुर से डेढ़ घंटे में पहुंचा जा सकता है। पत्नीटॉप से निकटतम रेलवे स्टेशन उधमपुर और हवाई अड्डा जम्मू में है। जहां से पत्नीटॉप के लिए बसें और टैक्सियां उपलब्ध है।

पैरा ग्लाइडिंग और शिकारा का भी मजा

पत्नीटॉप से 19 किलोमीटर दूर स्थित सनासार में सैलानी पैरा ग्लाइडिंग का आनंद भी ले सकते हैं। यहां पर सैलानी दो किलोमीटर की पैरा ग्लाइडिंग राइड कर सकते हैं। पीडीए पत्नीटॉप में भी पैरा ग्लाइडिंग की संभावनाएं तलाश रहा है। इसके अलावा सनासार झील में श्रीनगर डल झील की तरह शिकारे भी चलते हैं। इसके अलावा सैलानियों के लिए जिप लाइन, घुड़सवारी भी उपलब्ध है।

आस्था का केंद्र है छह सदी पुराना नाग मंदिर

पत्नीटॉप के पास नाग मंदिर लोगों की आस्था का केंद्र भी है। यह मंदिर छह शताब्दी पुराना है। यहां पर नाग पंचमी उत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। जिसमें बड़ी संख्या में शिव भक्त हिस्सा लेते हैं। लोग नाग देवता के मंदिर में माथा टेकते और मन्नतें मांगते हैं। मन्नत पूरी होने पर भंडारे भी आयोजित होते हैं।

नत्थाटॉप से नजर आते हैं सुंदर नजारे

पत्नीटॉप से करीब नौ किलोमीटर दूर सनासर मार्ग पर नत्थाटॉप भी पर्यटकों के आकर्षित करने वाला पर्यटन स्थल है। समुद्र तल से 2811 मीटर की ऊंचाई पर स्थित नत्थटॉप के उंची चोटियों से हिमालय की चोटियां भी उत्कृष्ट और स्पष्ट नजारा देखा जा सकता है।

Edited By: Vikas Abrol