जम्मू, जागरण संवाददाता : पश्चिमी विक्षोभ का कमजोर प्रभाव जम्मू-कश्मीर में दिख रहा है। सोमवार को पूरा दिन कोहरा और बादल छाए रहने के बाद देर रात कई स्थानों पर हल्की बारिश और कई स्थानों पर बर्फबारी हुई। इससे ठंड का प्रकोप और भी बढ़ गया है। हालांकि बादल छाए रहने के बाद न्यूनतम तापामन में हल्की बढ़ोतरी हुई है। मैदानी इलाको में कोहरा और शीतलहर का प्रकोप जारी है।

मौसम विज्ञान केंद्र, श्रीनगर से मिली जानकारी अनुसार कश्मीर में ताजा हिमपात।जम्मू के मैदानी इलाकों में हल्की बारिश और कश्मीर के मैदानी इलाकों में हल्की बर्फबारी और जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के ऊंचे इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है।इसके बाद 21 और 22 जनवरी के दौरान जम्मू-कश्मीर में हल्की से मध्यम हिमपात की संभावना है।

दोनों केंद्र शासित प्रदेशों में जनवरी के अंत तक किसी भी बड़ी बारिश, हिमपात का कोई पूर्वानुमान नहीं है। पिछले 24 घंटों में श्रीगनर में 0.2 एमएम, कुपवाड़ा में 9.2 एमएम, गुलमर्ग में 4.4 एमएम, पहलगाम में 3.4 एमएम बारिश दर्ज की गई।

श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 1.1, पहलगाम में माइनस 0.7 और गुलमर्ग में माइनस 6.0 रहा। लद्दाख क्षेत्र में द्रास में शून्य से नीचे 16.1, लेह में शून्य से 9.1 और कारगिल में शून्य से 12.3 नीचे दर्ज किया गया। जम्मू शहर में रात का न्यूनतम तापमान 9.3, कटडा में 6.2, बटोत में 2.6, बनिहाल में 0.4 और भद्रवाह में 0.9 रहा।

सोमवार को पूरा दिन बादल और कोहरा छाए रहने के बाद मंगलवार सुबह भी निचले मैदानी क्षेत्रों में कोहरा छाया हुआ था लेकिन धीरे-धीरे मौसम साफ हो रहा है। हालांकि अभी भी बादलों और सूर्यदेव के बीच लुकाछिपी का खेल जारी है। ठंड से बचाव के लिए लोग घरों में ही बैठना पसंद कर रहे हैं। जरूरी काम न हो तो कोई भी बाहर निकलना पसंद नहीं कर रहा।ठंड से बचने के लिए कई अलाव का सहारा ले रहे हैं। बाजारों में कई स्थानों पर लोग ठंड से बचने के लिए अलाव जलाए हुए हैं।  

Edited By: Rahul Sharma