जम्मू, जेएनएन। केंद्र शासित जम्मू कश्मीर और लद्दाख में शीत लहर का प्रकोप अभी भी बना हुआ है। कश्मीर और लद्दाख में जहां न्यूनतम तापमान जमाम बिंदु से नीचे बना हुआ है वहीं जम्मू संभाग में बादलों के बीच सूरज की लुकाछिपी के बीच चल रही सर्द हवाएं लोगों को ठिठुरन का एहसास कर रही हैं। मौसम विभाग के अनुसार उत्तरी कश्मीर का गुलमर्ग घाटी का सबसे ठंडा स्थान था जहां न्यूनतम तापमान शून्य से -11.5 डिग्री नीचे था। राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में शून्य से -3.7 डिग्री कम दर्ज किया गया जबकि दक्षिण कश्मीर के काजीगुंड में पारा शून्य से -8.0 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

दिन-प्रतिदिन बढ़ती सर्दी को देखते हुए उच्च शिक्षा विभाग कश्मीर ने घाटी व जम्मू संभाग के विंटर जोन में स्थित सभी डिग्री कालेजों में 21 से दिसंबर से सर्दी की छुट्टियां घोषित कर दी हैं। मौसम में सुधार होने के बाद ये कालेज 7 फरवरी को खोले जाएंगे। जहां तक जम्मू संभाग के ग्रीष्मकालीन जिलों की बात है तो वहां स्थित कालेजों में सर्दियों की छुट्टियां एक जनवरी से 10 जनवरी तक रहेंगी।

जहां तक जम्मू-श्रीनगर हाइवे की बात है तो वह आज बुधवार को वाहनों की आवाजाही के लिए खुला रहा। हालांकि ट्रैफिक विभाग ने सड़क की स्थिति पूरी तरह से बेहतर न होने की वजह से यहां एक तरफा वाहनों को आने-जाने की अनुमति दे रखी है। 

जम्मू में भी बुधवार सुबह से ही बादल छाए रहने के कारण सर्द हवाओं ने ठंड का एहसास कराए रखा। बीच-बीच में सूरज ने बादलों को भेद अपनी किरणों को बिखेरने का प्रयास किया परंतु लुकाछिपी का यह सिलसिला अभी भी जारी है। पहाड़ी इलाकों में हुई बर्फबारी के कारण जम्मू शहर का न्यूनतम तापमान भी 4.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। लद्दाख में भी शीतलहर का प्रकोप जारी है। रात को जमा देने वाली ठंड परेशान कर रही है। लोगों की दिनचर्या भी धूप निकलने पर ही निर्भर करने लगी है।

पहलगाम में रात का तापमान -10.3 डिग्री सेल्सियस, कोकेरनाग का -6.4 डिग्री सेल्सियस, उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा का -4.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं अगर जम्मू की बात करें तो यहां का न्यूनतम तापमान 4.8 डिग्री सेल्सियस, कटरा 4.6, बटोटे -1.3, बनिहाल में -0.3 और भद्रवाह में रात का न्यूनतम तापमान -3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग का कहना है कि अभी ठंड का प्रकोप इसी तरह बना रहेगा।

बर्फबारी के कारण बंद हुआ एतिहासिक मुगल रोड मार्ग और श्रीनगर को लेह से जोड़ने वाला जोजिला पास मार्ग पर बर्फ हटाने का काम चल रहा है। अभी इसे पूरी तरह खुलने में समय लग सकता है। प्रशासन ने संबंधित विभाग को युद्ध स्तर पर काम करने के निर्देश दिए हैं। हालांकि इन मांर्गों पर फंसे यात्रियों को वायु सेना की मदद से लद्दाख पहुंचा दिया है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस