जम्मू, जागरण संवाददाता। झज्जर कोटली के पाली गांव में पुश्तैनी भूमि के मालिकाना हक को लेकर दो परिवारों जो आपस में करीबी रिश्तेदार भी है में खूनी झड़प हो गई। मारपीट की इस वारदात में दोनों गुटों ने सदस्यों जिन में महिलाएं भी शामिल है। आरोप है कि इस दौरान दोनों गुटों के सदस्यों ने पिस्तौलें भी लहराई और एक दूसरों को धमकाया। मारपीट की इस वारदात में एक गर्भवती महिला भी घायल हुई है। दोनों दलों की शिकायत पर झज्जर कोटली पुलिस में मामला दर्ज किया गया है।

एसएचओ झज्जर कोटली सैमसंग भट्टी ने बताया कि मारपीट की इस वारदात में घायल गर्भवती महिला मारूफा बीबी पत्नी मोहम्मद सादिक जो जम्मू कश्मीर पुलिस में कांस्टेबल है कि बताया कि पल्ली गांव में उसके ससुराल वालों की पुश्तैनी भूमि है। उनका परिवार उक्त भूमि में खेती करता है। अचानक से मोहम्मद आयूब के परिवार के सदस्य कई अन्य लोगों के साथ उनके घर में घुस आए और उन पर हमला कर दिया। इस दौरान वे अपने साथ पिस्तौल भी लेकर आए थे जिससे लहराते हुए उन्होंने उनके परिवार को धमकाया था। मारपीट की इस वारदात में गर्भवती महिला को चोट आ गई और उसे जीएमसी में भर्ती करवाया गया है।

वहीं, दूसरे गुट की सदस्य अरशद बीबी पत्नी मोहम्मद आयूब मोहम्मद निवासी पल्ली, डंसाल जिसे मारपीट की इस घटना में चोट आई है ने पुलिस को दिए बयान में बताया है कि जम्मू कश्मीर पुलिस में तैनात सब इंस्पेक्टर आयूब खान और उनके साथ करीब एक दर्जन लोग हथियारों के हाथ उनकी भूमि में घुस आए जब वह वहां काम कर रहे थे। हमलावरों ने उन पर हमला अचानक से हमला करने के साथ पथराव भी कर दिया। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों पक्षों की शिकायत पर मामला दर्ज कर पुलिस ने हमलावरों की धर पकड़ शुरू कर दी है।

Edited By: Vikas Abrol

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट