जम्मू, राज्य ब्यूरो: केंद्रीय पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस व श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली ने कहा है कि मोदी सरकार के सभी मंत्रालय जम्मू-कश्मीर के समग्र विकास के लिए प्रयासरत हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस केंद्र शासित प्रदेश के विकास को लेकर गंभीर हैं।

डोडा जिले के दो दिवसीय दौरे के दूसरे दिन केंद्रीय मंत्री भद्रवाह में विश्वविद्यालय परिसर में देश की स्वतंत्रता के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में जारी आजादी का अमृत महोत्सव के तहत हुए कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने इस मौके पर विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान देने वाली क्षेत्र की 75 प्रतिष्ठित हस्तियों को सम्मानित भी किया। इनमें कलाकार, कोरोना योद्धा, साहित्यकार, प्रगतिशील किसान, नवोदित खिलाडी, मेधावी छात्रों के अलावा डयूटी के दौरान शहीद हुए जवानों के परिवारों के सदस्य भी शामिल थे। कार्यक्रम के दौरान भद्रवाही के स्कूली बच्चों और जम्मू-कश्मीर कला संस्कृति और भाषा अकादमी के कलाकारों द्वारा देशभक्ति विषय पर एक शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किया गया।

कार्यक्रम में विचार व्यक्त करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पिछले सात वर्षों में मंत्रालय ने कई कार्यक्रमों की शुरुआत की है। जिनका उद्देश्य लोगों को सशक्त बनाना है। ऐसे में बीपीसीएल, आईओसीएल, एचपीसीएल जैसी पेट्रोलियम कंपनियां भी इस केंद्र शासित प्रदेश के लोगों के समग्र सामाजिक, आर्थिक विकास में सहयोग दे रही हैं। उन्होंने बताया कि सामुदायिक विकास की योजनाओं के तहत नगरोटा हायर सेकेंडरी स्कूल का विकास, एलईडी लाइटें लगाने के साथ सड़कों के निर्माण, कचरा प्रबंधन के साथ , उज्ज्वला योजना के तहत बीपीएल परिवारों की महिलाओं को एलपीजी गैस कनेक्शन दिए जा रहे हैं। इसके साथ जम्मू-कश्मीर के बेरोजगार युवाओं के लिए प्रशिक्षण के लिए भी कार्यक्रम हो रहे हैं।

केंद्रीय राज्य मंत्री ने बताया कि उज्ज्वला चरण 1 के तहत बीपीएल परिवारों की महिलाओं के लिए 12 लाख एलपीजी कनेक्शन स्वीकृत किए गए। इसके अलावा तेल कंपनियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं कि कोई भी ऐसी महिला दूसरे चरण में न छूटे।

उन्होंने बताया कि उनका विभाग जम्मू में ईएसआईसी अस्पताल को 50 बिस्तरों से 100 बिस्तरों में अपग्रेड करने जा रहा है। इसके साथ 160 करोड़ की अ लागत से ओमपुरा में ईएसआईसी अस्पताल भी स्वीकृत किया गया है। इससे बडगाम और श्रीनगर जिले को भी लाभ होगा। श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने असंगठित श्रमिकों का ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण शुरू कर दिया है। पंजीकरण के साथ-साथ लाभार्थियों को 2 लाख का बीमा कवर भी मुफ्त दिया जा रहा है।

इसके अलावा मंत्रालय ने कोविड के दौरान अपनी नौकरी खो चुके युवाओं के लिए भी कल्याण योजना शुरू की है। केंद्रीय राज्य मंत्री ने अपने भाषण के दौरान राष्ट्र की सेवा में अपने प्राण न्यौछावर करने वाले स्वतंत्रता सेनानियों और कोरोना योद्धाओं को श्रद्धांजलि दी। उनकी स्मृति में एक मिनट का मौन भी रखा। इस मौके पर डोडा के डीसी धनंतर सिंह कोतवाल के साथ डीडीसी सदस्य , बीडीसी अध्यक्ष भी मौजूद थे।

 

Edited By: Rahul Sharma