हीरानगर, संवाद सहयोगी। पाकिस्तानी सैनिकों ने एक बार फिर कायराना हरकत करते हुए अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हीरानगर सेक्टर के रठुआ, पानसर, मनयारी में रिहायशी इलाकों को निशाना बनाते हुए जमकर गोलाबारी की। मंगलवार देर रात की गई इस गोलाबारी में हालांकि जानी नुकसान तो नहीं हुआ परंतु मोर्टार शैल गिरने से लोगों के मकानों व कुछ जानवरों को नुकसान पहुंचा है। वहीं भारतीय जवानों ने भी पाकिस्तानी सैनिकों की गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। एक घंटे से भी अधिक समय तक चली इस गोलाबारी में पाकिस्तानी चौकियों को काफी नुकसान पहुंचने की सूचना है।

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने और इसे केंद्र शासित प्रदेश बनाने के बाद से ही पाकिस्तान आए दिन सीमांत इलाकों में सीजफायर का उल्लंघन करते हुए भारतीय चौकियों व रिहायशी इलाकों को निशाना बनाता आ रहा है। भारत सरकार के इस कदम से बौखलाया पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में अशांति का वातावरण फैलाने के लिए इस सीजफायर की आड़ में घुसपैठ की फिराक में रहता है। हीरानगर सेक्टर में आए दिन हो रही इस गोलाबारी के कारण लोगों में दहशत का माहौल व्याप्त है। बंकर निर्माण कार्य पूरा न होने के कारण गोलाबारी के दौरान लोग अपने घरों में ही दुबके रहे।

ग्रामीणों ने बताया की मंगलवार की शाम को रेंजरों ने साढ़े आठ बजे के करीब अचानक पहले तो हलके हथियारों से गोलीबारी की। उसके बाद गांवों पर मोर्टार शैल दागे गए। दो मोर्टार के शैल दिलीप कुमार, मांडू राम के मकानों पर और कुछ गांव के बाहर पड़े जिसकी चपेट में आने से एक बछड़ी घायल हो गई। दिलीप कुमार ने बताया की शाम को खाना खाने के बाद अभी वे सोने की तैयारी ही कर रहे थे कि एक मोर्टार शैल उसके मकान की छत को फाड़ता हुआ अंदर गिरा।

गनिमत यह रही कि उस समय बैड पर कोई नहीं था। यदि वे सोने चले गए होते तो उनके परिवार का बचना मुश्किल था। वहीं साथ लगते माडू राम की छत पर भी एक शैल गिरा जो उपर ही फट गया। हालांकि उस समय परिवार के लोग भी उसी कमरे में सोए हुए थे। अगर छत टूट जाती और शैल कमरे में गिरकर फटता तो जानी नुकसान हो सकता था। ग्रामीणों ने बताया कि पाकिस्तान एक माह से गोलीबारी करता आ रहा है। गांव में एक साल से बंकरों का निर्माण कार्य चल रहा है परंतु अभी अधर में लटका हुआ है। अभी तक पांच से छह बंकर ही बने हैं।

पाकिस्तान लगातार दो दिन से रठुआ में गोलीबारी करता आ रहा है। अगर कुछ दिन और जारी रही तो लोगों को पलायन करना पड़ सकता है। वहीं मनयारी, पानसर, गंजराल गांवों में भी रात भर गोलीबारी होती रही। गोलियां लोगों के मकानों पर लगी परंतु कोई जानी नुकसान नहीं हुआ।

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप