जम्मू, राज्य ब्यूरो : प्रदेश भाजपा के संगठन महामंत्री अशोक कौल ने कहा है कि आजादी का अमृत महोत्सव, समाज को देश के स्वर्णिम इतिहास व संस्कृति के बारे में जागरूक बनाने के लिए बहुत महत्व रखते हैं।

भाजपा मुख्यालय में आजादी का अमृत महोत्सव विषय पर हुए सेमीनार में विचार व्यक्त करते हुए कहा कि ब्रिटिश शासन व कम्यूनिस्ट विचारधारा के प्रभाव में लोग देश के स्वर्णिम इतिहास व संस्कृति से दूर हो गए हैं। ऐसे में यह समय की मांग है कि समाज को उन दिनों की याद दिलाई जाए जब भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था। नई पीढ़ी तक यह संदेश पहुंचाने के लिए आजादी का अमृत महोत्सव जैसे अभियान बहुत महत्व रखते हैं।

भाजपा मुख्यालय में पार्टी के साहित्य, प्रकाशन विभाग की ओर से मंगलवार दोपहर को आयोजित इस सेमीनार में अशोक कौल के साथ पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सुनील सेठी, जम्मू विश्वविद्यालय के प्रोफेसर दिपांकर सेन ने हिस्सा लेकर विचार व्यक्त किए। सेमीनार के विभिन्न सत्रों के दौरान आजादी के अमृत महोत्सव के तहत हो रहे कार्यक्रमों की अहमियत पर विचार विमर्श किया गया। इस दौरान सेमीनार का संचालन भाजपा के पुंछ जिले के प्रभार पवन शर्मा भी माैजूद थे।

सेमीनार में विचार व्यक्त करते हुए वक्ताओं ने कहा कि भारत ने विश्व को योग के साथ देश के साथ विश्व शांति का संदेश दिया। अब एक बार फिर देश को विश्व का मशालवाहक बनाने की जरूरत है। भारत सांप्रदायिक सौहार्द व भाइचारे का प्रतीक है।

कोविड से उपजे हालात में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत की दिशा में सराहनीय कार्य किया। आजादी का अमृत महोत्सव देश को विश्वगुरू बनाने की दिशा में एक प्रयास है। ऐसे में इस अभियान के माध्यम से नई पीढ़ी को उन लोगों के बारे में भी बताया जा रहा है जिन्होंने आजादी के संग्राम में बलिदान दिए। देश के लिए बलिदान देने वाले वीरों की कहानियां नई पीढ़ी में देशभक्ति की भावना को बल देंगी।

सेमीनार में भाजपा के साहित्य, प्रकाशन विभाग के प्रभारी रजनीश जैन, सह प्रभारी नरेश रैना के साथ भाजपा के मीडिया प्रभारी डा प्रदीप महोत्रा भी मौजूद थे।

Edited By: Rahul Sharma