राज्य ब्यूरो, जम्मू : बसोहली से भाजपा विधायक व पूर्व मंत्री चौधरी लाल ¨सह ने हाल ही में गिरी भाजपा-पीडीपी गठबंधन सरकार को अब तक की सबसे खराब सरकार बताया। उन्होंने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पीडीपी से समर्थन वापस लेकर सराहनीय प्रयास किया। इसके लिए वह बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कठुआ मामले की सीबीआइ से जांच करवाने की मांग की।

शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए लाल ¨सह ने कहा कि महबूबा मुफ्ती की अगुवाई में चली सरकार ने हमेशा जम्मू को नजरअंदाज किया। कभी लोक सेवा आयोग, राज्य सेवा भर्ती बोर्ड की परीक्षाओं में जम्मू की अनदेखी हुई। उन्होंने कहा कि कठुआ में बच्ची की हत्या के सही कातिलों का आज तक पता नहीं चल पाया और जम्मू के डोगरों को बदनाम करने की साजिश रची गई। अब वह राज्यपाल एनएन वोहरा से स्वयं मिलेंगे। कठुआ मामले की सीबीआइ से जांच करवाने की मांग करेंगे। लाल ¨सह ने कहा कि महबूबा सरकार से भाजपा हाईकमान को बहुत पहले समर्थन वापस ले लेना चाहिए था। इससे एक तरफा संघर्षविराम भी नहीं होता और कई मासूमों की जान भी नहीं जाती। इस समय भी समर्थन वापस लेकर अच्छा कदम उठाया है। अब सरकार बदलने से राज्यपाल शासन लागू हुआ है। राज्यपाल शासन अच्छा नहीं होता, लेकिन एनएन वोहरा बहुत ही अनुभवी हैं। उम्मीद है कि कामकाज में भी बदलाव देखने को मिलेगा। उन्होंने जय डुग्गर, जय जम्मू का नारा देते हुए जम्मू के सभी लोगों और नेताओं को डोगरों के हितों के लिए एकजुट होने को कहा। कुछ दिनों के बाद वह मशाल रैली निकालेंगे। हर 20 से 25 दिन बाद रैलियां आयोजित की जाएंगी ताकि डोगरों को अधिकार और हक मिल सकें।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप