जम्मू, जागरण संवाददाता : जम्मू फिल्म महोत्सव का दूसरा दो दिवसीय संस्करण मार्च 2022 में होगा। इसके लिए आज से प्रविष्टियाें के लिए आह्वान किया गया है। इससे पहले वर्ष 2019 में यह फिल्मोत्सव किया गया था।

महोत्सव निदेशक रोहित भट्ट ने संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि उनका यह महोत्सव पिछले महोत्सव से बेहतर होगा। इस साल उन्होंने लघु फिल्मों और वृत्तचित्रों के अलावा फीचर फिल्मों को भी प्रतियोगिता में शामिल किया है। पूर्व उपाध्यक्ष शिबेन कृष्ण कौल, नेहरू पोर्ट ट्रस्ट, मुंबई के बोर्ड के सचिव जवाहर लाल और समारोह के सलाहकार ने कहा कि कला के संबंध में जम्मू को दुनिया के नक्शे पर लाने की आवश्यकता है।

वर्ष 2019 में पहले संस्करण की सफलता के बाद हम अगले वर्ष में दूसरा संस्करण करने के लिए बहुत उत्साहित थे लेकिन महामारी के कारण इसे स्थगित करना पड़ा। अब दूसरे संस्करण को इसकी पूरे जोश के साथ करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। उन्होंने कहा कि वर्चुअल इवेंट नहीं करना चाहते थे क्योंकि यह त्योहार कुल मिलाकर जम्मू और जम्मू क्षेत्र के लोगों के लिए है। एक अन्य सलाहकार संजय सराफ, जो राष्ट्रीय महासचिव और लोजपा के प्रवक्ता हैं, ने कहा कि जेके यूटी में ऐसी पहल को प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है, जो एक ही समय में शहर में नाम और प्रसिद्धि लाते हुए युवाओं को सकारात्मक दिशा में ले जाए। उन्होंने कहा कि प्रशासन और अन्य निकायों को इस अद्भुत पहल को पूरा समर्थन देना चाहिए। कला का कोई भी माध्यम समाज में बड़े और सकारात्मक बदलाव लाने की क्षमता रखता है।

उन्होंने अपनी सामुदायिक रेडियो सेवा के साथ सामुदायिक रेडियो क्षेत्र में पहली बार अनुभव किया है। रेडियो शारदा के संस्थापक निदेशक रमेश हंगलू ने कहा कि सिनेमा में सकारात्मक प्रभाव लाने की जबरदस्त क्षमता है और फिल्म समारोह सिनेमा को मनाने का एक शानदार तरीका है।  

Edited By: Vikas Abrol