राज्य ब्यूरो, जम्मू: सरकारी एएमटी स्कूल जम्मू की छात्राओं ने परीक्षा की मांग को लेकर मंगलवार को राजकीय मेडिकल कालेज जम्मू में ओपीडी कांप्लेक्स के बाहर प्रदर्शन किया। उनका कहना है कि लंबे समय से मांग के बावजूद अभी तक उनकी परीक्षा को लेकर कोई भी फैसला नहीं हुआ है।

ओपीडी के बाहर बड़ी संख्या में एकत्रित छात्राओं ने काफी समय तक नारेबाजी की। इन छात्राओं ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण पहले से ही उनकी पढ़ाई बाधित हुई है। अब परीक्षाओं पर असर पड़ रहा है। उनका कहना है कि कश्मीर में छात्राएं मास प्रमोशन की मांग कर रही हैं और वे कोर्ट में भी गई हैं, लेकिन उनकी मांग परीक्षा आयोजित करने की है। उनमें से कोई भी मास प्रमोशन की मांग नहीं कर रहा है। वे चाहती हैं कि जम्मू की छात्राओं को कश्मीर से अलग कर दिया जाए और उनकी परीक्षा के लिए तारीख तय हो। उन्हें चार वर्ष का कोर्स करते हुए अब पांच साल हो गए हैं।

छात्राओं ने कहा कि कुछ निजी कालेज की छात्राओं की परीक्षाएं आयोजित हो चुकी हैं। ऐसे में क्या उनका यह कसूर है कि वह सरकारी कालेज में पढ़ रही हैं। उन्होंने कहा कि इतने समय में तो एमबीबीएस भी हो जाती है। उन्होने पैरामेडिकल काउंसिल के अधिकारियों से उनकी परीक्षा पर फैसला करने को कहा। पैरामेडिकल काउंसिल के पदाधिकारियों का कहना है कि उन्होंने इन छात्राओं की परीक्षा लेने के लिए 17 जनवरी का समय तय किया था। लेकिन कश्मीर कही छात्राओं द्वारा कोर्ट से स्टे लेने के कारण इन्हें स्थगित करना पड़ा है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021