जम्मू, जागरण संवाददाता। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के दौरे पर आ रहे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह 24 अक्टूबर को जम्मू के भगवती नगर में जनसभा को संबोधित करेंगे। प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने अमित शाह की इस जनसभा में एक लाख लोगों को जमा करने का लक्ष्य रखा है।

अमित शाह की इस जनसभा को सफल बनाने के लिए तवी किनारे भगवती नगर में जनसभा को लेकर तैयारियां जोरशोर से चल रही है। अनुच्छेद 370 व 35 ए समाप्त होने के बाद अमित शाह का यह पहला जम्मू दौरा है और इस दौरान उन्हें सुनने के लिए प्रदेश भर से भाजपा कार्यकर्ता व समर्थक जम्मू में जुटने वाले हैं।जनसभा को लेकर की जा रही तैयारियों का जायजा लेने के लिए शनिवार को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रविंद्र रैना स्वयं रैली स्थल पहुंचे।

इस मौके पर पूर्व मंत्री सत शर्मा, जम्मू के मेयर चंद्रमोहन गुप्ता, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष युद्धवीर सेठी, कोषाध्यक्ष प्रभात सिंह, मुनीश शर्मा, ओमी खजूरिया, संजय बड़ू, मुनीश खजूरिया, प्रमोद कपाही, ब्रह्मज्योत सत्ती व अन्य पार्टी नेता भी रविंद्र रैना के सािा रहे। रविंद्र रैना ने जनसभा स्थल तक जाने वाले मार्ग, वहां लोगों के बैठने व अमित शाह को सुनने के उचित प्रबंधों तथा मंच बनाने को लेकर जारी तैयारियों की समीक्षा की।

रविंद्र रैना ने कहा कि अनुच्छेद 370 व 35 ए समाप्त होने के बाद भाजपा की यह पहली विशाल जनसभा है जिसे देश के गृहमंत्री अमित शाह संबोधित करने वाले है। रैना ने कहा कि इस जनसभा में एक लाख से अधिक कार्यकर्ताओं व समर्थक जुटने वाले हैं। रैना ने कहा कि भाजपा इस जनसभा के माध्यम से देश के गृहमंत्री का अनुच्छेद 370 व 35 ए समाप्त करने के लिए आभार प्रकट करना चाहती है। रविंद्र रैना ने इस मौके पर पार्टी नेताओं को अपनी टीमों के साथ बैठक कर जनसभा की सफलता को लेकर विस्तृत चर्चा करने की सलाह दी। रैना ने बूथ स्तर के पार्टी कार्यकर्ताओं की जनसभा के आयोजन में सेवाएं लेने की सलाह भी दी।

Edited By: Vikas Abrol