जम्मू, राज्य ब्यूरो। शेष देश से सड़क मार्ग से कटे लद्दाख के कारगिल जिले के लोगों के लिए कारगिल कूरियर सेवा चला रही वायुसेना ने वीरवार को 35 लोगों को मंजिल तक पहुंचाया। शुक्रवार को वायुसेना का एएन-32 विमान कारगिल से जम्मू के लिए उड़ान भरेगा।

वायुसेना की मुहिम के तहत वीरवार को एएन 32 विमान से 15 यात्रियों को कारगिल से श्रीनगर पहुंचाया गया वहीं वापसी में इस विमान ने 20 यात्रियों को श्रीनगर से कारगिल लाया गया। मंगलवार को खराब मौसम के कारण कारगिल से श्रीनगर के लिए उड़ान रद करनी पड़ी थी। वही कूरियर सेवा के पहले दिन जम्मू के लिए उड़ान भरने वाले भारतीय वायुसेना के एएन 32 विमान ने मंगलवार को 43 कारगिल वासियों को अपनी मंजिल तक पहुंचाया था।

कारगिल विमान सेवा के समन्वयक आमिर अली ने बताया कि अब 28 जनवरी को कारगिल से जम्मू के लिए उड़ान होगी। इस समय कारगिल कूरियर सेवा के लिए टिकटों की आनलाइन बुकिंग जारी है। यह कार्यवाही लद्दाख नागरिक उड्डयन विभाग की देखरेख में चलाई जा रही है। उन्होंने बताया कि कारगिल के निवासियों को कारगिल कूरियर सेवा के शेडयूल के बारे में लगातार जानकारी दी जा रही है।

जनवरी के प्रथम सप्ताह में कश्मीर को लद्दाख जोड़ने वाले जाजिला पास के यातायात के लिए बंद होने के कारण कारगिल कूरियर सेवा शुरू करने की कार्यवाही तेज हो गई थी। माह के दूसरे पखवाड़े में मौसम खराब रखने के लिए कारण सेवा शुरू करने में देरी हुई थी। ऐसे में 25 जूनियर से चंडीगढ़ से कारगिल पहुंचने वाले भारतीय वायुसेना के एएन 32 विमान ने लोगों को जम्मू, श्रीनगर पहुंचाने के लिए अभियान शुरू कर दिया था। वायुसेना की यह कारगिल कूरियर सेवा मार्च-अप्रैल महीने में सर्दी खत्म होने तक जारी रहेगी। कश्मीर को लद्दाख से जोड़ने वाले जोजिला पास के यातायात के लिए खुलते ही यह कूरियर सेवा बंद हो जाती है।

Edited By: Vikas Abrol