जम्मू, जागरण संवाददाता : दक्षिण अफ्रीका में कोरोना के नए वैरिएंट को देखते हुए जम्मू कश्मीर में भी प्रशासन अलर्ट हो गया है। कोरोना की इस तीसरी लहर को रोकने के लिए अब पुलिस व प्रशासन ने मिलकर एक बार फिर मोर्चा संभाल लिया है और बाजारों में बिना मास्क के घूम रहे लोगों को पकड़ कर उनकी कोरोना जांच करने के अभियान को तेज कर दिया है। हालांकि यह अभियान पहले से जारी है लेकिन अब इस अभियान को दोगुनी गति से चलाया जा रहा है।

रविवार को भी जम्मू के विभिन्न बाजारों में पुलिस के साथ स्वास्थ्य विभाग की टीमें तैनात रही, जिन्होंने उन लोगों को पकड़कर कोरोना जांच की जो बिना मास्क के बाजारों में घूमते दिखे। पुलिसकर्मियों ने जहां लोगों को पकड़ा तो वहीं स्वास्थ्यकर्मियों ने उन लोगों की कोरोना जांच की और उन्हें तब तक जाने की इजाजत नहीं दी जबकि उनकी रिपोर्ट नेगेटिव न आ जाए। हालांकि बाजार में कोई कोरोना पॉजिटिव तो नहीं मिला लेकिन एहतियात के तौर पर उनकी सैंपल रिपोर्ट आने तक उन्हें बिठाकर रखा गया।

वहीं लोगों की बढ़ती हुई लापरवाही को देखते हुए बाजारों में पुलिस ने भी लाउड स्पीकर पर मुनादी शुरू कर दी है। पुलिस उन लोगों को चेतावनी दे रही है जो बाजारों में कोविड के नियमाें का पालन नहीं कर रहे और बिना मास्क के ही घरों से बाजार पहुंच रहे हैं। रविवार को भी शहर के बाजारों में भारी भीड़ देखने को मिली।

शादी विवाह का सीजन होने के कारण रविवार के दिन भी बाजारों में भारी भीड़ रही और इस भीड़ में भी हर दूसरा आदमी बिना मास्क के ही दिख रहा था।इतना ही नहीं कई लोग बच्चों को भी बाजारों में लेकर आए थे उनमें कुछ ऐसे भी हैं जो बच्चों को भी मास्क नहीं पहना रखे थे। ऐसे लोगों को पकड़कर पुलिस उनकी कोरोना जांच तो करवाई ही, उन्हें फटकार भी लगाई। कोरोना के नए वैरिएंट को रोकने के लिए प्रशासन आने वाले दिनों में आैर सख्ती भी कर सकता है।

जम्मू के सीएमओ डा. जेपी सिंह ने कहा कि कोरोना अभी पूरी तरह से गया नहीं है। कोरोना के मामले अब भी सामने आ रहे हैं और अगर लोग इसी तरह लापरवाही करते रहे तो मामलों मेें बढ़ोतरी हो सकती है। लोग प्रशासन का सहयोग करें। कोविड के नियमों का पालन करें।दुनिया के सामने कोरोना की तीसरी लहर को रोकने की चुनौती है। इस चुनौती को लोग समझें।

Edited By: Lokesh Chandra Mishra