जम्मू, राज्य ब्यूरो : एंटी क्रप्शन ब्यूरो ने शुक्रवार को कश्मीर के बारामुला जिले के सिंहपोरा में तहसील कार्यालय के क्लर्क को दो हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया।

एंटी क्रप्शन ब्यूरो को शिकायत मिली थी कि राजस्व विभाग का क्लर्क हिलाल अहमद भूमि संबंधी मामले के निपटारे के लिए रिश्वत मांग रहा था। शिकायत करने वाले के अनुसार श्रीनगर के गुरूबाजार में रहने वाली उसकी बुआ ने पटन के दसलीपोरा में उसकी एक कनाल जमीन पर अवैध कब्जा कर रखा था। यह जमीन सर्वे नंबर 193, 192, 214,264 में इंतकाल नंबर 191 व खेवत नंबर 38 में है।

जमीन पर अवैध कब्जा के मामले में तहसीलदार सिंहपोरा ने नायब तहसीलदार को उपयुक्त कार्यवाही करने के लिए कहा था। शिकायतकर्ता के नायब तहसीलदार कार्यालय में कई चक्कर लगाने के बाद भी उसकी समस्या का समाधान करने की दिशा में कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी। ऐसे में तहसील कार्यालय में तैनात क्लर्क हिलाल अहमद ने काम करने के लिए दो हजार की रिश्वत मांगी।

शिकायतकर्ता ने इसकी जानकारी पुलिस को दी व इस शिकायत के आधार पर एंटी क्रप्शन ब्यूरो की टीम ने छापा मारकर क्लर्क को 2000 हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया। क्लर्क के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा 7 के तहत एफआइआर दर्ज की गई है। एक गवाह की मौजूदगी में मारे गए छापे के दौरान क्लर्क के पास से रिश्वत में लिए दो हजार रूपये भी बरामद कर लिए गए।

दो अधिकारियों को अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई : जम्मू कश्मीर प्रशासनिक सेवा के दो अधिकारियों को अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है। पुलवामा के एडिशनल डिप्टी कमिश्नर डा. फियाज अहमद बांडे को जिला पुलवामा के रजिस्ट्रार पद की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है। कुपवाड़ा के एडिशनल डिप्टी कमिश्नर गुलाम नबी भट्ट को कुपवाड़ा जिला के रजिस्ट्रार की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है। यह आदेश सामान्य प्रशासनिक विभाग ने जारी किया है।

Edited By: Rahul Sharma