राज्य ब्यूरो, जम्मू : राज्य विधान परिषद के आठ सदस्यों के सेवानृवित्त होने पर वीरवार को विधान परिषद में हुए कार्यक्रम में उन्हें विदाई दी गई।

सेवानृवित्त विधान परिषद के इन आठ सदस्यों में जम्मू के कोटे से चुने गए यशपाल शर्मा, रानी गार्गी बलोरिया, कश्मीर के कोटे से चुने गए सईद नसीम अख्तर अंद्राबी, मुहम्मद मुजफ्फर पर्रे, शौकत हुसैन गनई व डोडा से चुने गए नरेश गुप्ता शामिल हैं। विधान परिषद सचिवालय में हुए कार्यक्रम में चेयरमैन हाजी इनायत अली, विधान परिषद के कई सदस्य व अधिकारी मौजूद थे।

इस मौके पर चेयरमैन हाजी इनायत अली ने सेवानिवृत्त सदस्यों के योगदान और उनके सहयोग की सराहना की। उन्होंने कहा कि सदस्यों ने जनहित के साथ लोगों के विकास को मुद्दों को विधान परिषद में उजागर करने के पूरे प्रयास किए। उन्होंने सदन के कामकाज को बेहतर बनाने के लिए सुझाव भी दिए।

विदाई समारोह में विधान परिषद के सदस्य अशोक खजूरिया, अजातशत्रु सिंह, रमेश अरोड़ा, बलवीर सिंह, आगा सईद महमूद, चरणजीत सिंह खालसा, गिरधारी लाल रैना, विवोद गुप्ता, सुरेन्द्र चौधरी, विक्रम रंधावा व सैफुद्दीन भट्ट मौजूद थे। उन्होंने ने सेवानिवृत सदस्यों के योगदान पर प्रकाश डाला।

इसी बीच इन सदस्यों के सेवानिवृत होने से 36 सदस्यीय विधान परिषद की 14 सीटें खाली हो गई हैं। पीछे बची 22 सीटों में 10 भाजपा की हैं। वर्ष 2021 में 15 सीटें खाली हो जाएंगी। इस समय राज्य में पंचायतों व स्थानीय निकाय के कोटे वाली छह सीटें खाली पड़ी हैं। इनमें से विधान परिषद में पंचायत के कोटे वाली चार व स्थानीय निकाय के कोटे वाली दो सीटें शामिल हैं। इन्हें भरने का मुद्दा राज्यपाल प्रशासन जल्द भारतीय चुनाव आयोग से उठाएगा। गत दिनों हुई राज्य प्रशासनिक परिषद की बैठक में यह फैसला हुआ था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप