श्रीनगर, जेएनएन। जम्मू-कश्मीर में आज शुक्रवार को कोविड -19 से पांचवीं मौत हुई है। श्रीनगर के जेवीसी में उपचाराधीन 76 वर्षीय यह कोरोना संक्रमित वृद्ध श्रीनगर के आरमपोरा बेमिना का रहने वाला था। अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि इसकी मौत आज दोपहर बाद ही हुई है। अस्पताल प्रंबंधन ने बताया कि यह वृद्ध स्किम्स के अधीन आने वाले इस झेलम वैली कालेज अस्पताल में दस दिन पहले ही आइसोलेट किया गया था।

जेवीसी बेमिना अस्पताल के सुपरिंटेंडेंट डॉ. शफिया देवल ने वृद्ध की मौत की पुष्टि करते हुए बताया कि उनके अधीन इस अस्पताल में करीब 95 कोरोना संक्रमित रोगियों का इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि इस श्रीनगर में यह कोरोना संक्रमित चौथी मौत है जबकि एक संक्रमित की मौत जम्मू संभाग में हो चुकी है। जम्मू संभाग में इसी माह 8 अप्रैल को मरने वाली 61 वर्षीय महिला जिला ऊधमपुर के टिकरी इलाके की रहने वाली थी। हालांकि इससे एक दिन पहले 7 अप्रैल को श्रीनगर के एसएमएचएस अस्पताल में 54 वर्षीय संक्रमित व्यक्ति की मौत हुई थी, जो बांडीपोरा का रहने वाला था।

जेवीसी बेमिना अस्पताल के सुपरिंटेंडेंट शाफिया देवा ने वृद्ध की मौत की पुष्टि करते हुए बताया कि उनके अधीन इस अस्पताल में करीब 95 कोरोना संक्रमित रोगियों का इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि इस श्रीनगर में यह कोरोना संक्रमित चौथी मौत है जबकि एक संक्रमित की मौत जम्मू संभाग में हो चुकी है। जम्मू संभाग में इसी माह 8 अप्रैल को मरने वाली 61 वर्षीय महिला जिला ऊधमपुर के टिकरी इलाके की रहने वाली थी। हालांकि इससे एक दिन पहले 7 अप्रैल को श्रीनगर के एसएमएचएस अस्पताल में 54 वर्षीय संक्रमित व्यक्ति की मौत हुई थी, जो बांडीपोरा का रहने वाला था।

इससे पहले श्रीनगर में 29 मार्च को सीडी अस्पताल में उपचाराधीन 50 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई थी। वह तंगमर्ग का रहने वाला था। वहीं 25 मार्च को सीडी अस्पताल में ही उपचाराधीन हैदरपोरा के 65 वर्षीय तब्लीगी जमात के प्रचारक की मृत्यु हुई थी। यह घाटी में कोरोना संक्रमित सबसे पहली मौत थी।

वहीं जेवीसी अस्पताल के प्रिंसिपल डॉ. रेयाज अनटू ने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीज सीने में दर्द की समस्या से पीड़ित था। उसे 2 अप्रैल को यहां लाया गया जबकि उससे पहले वह सीडी अस्पताल श्रीनगर में उपचाराधीन था। आरमपोरा सोपोर से पीड़ित यह रोगी धूम्रपान भी काफी अधिक करता था। वह दमा, रक्तचाप आदि बीमारियों से भी ग्रस्त था।

सनद रहे कि जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 314 पहुंच गई है। इसमें 54 मामले जम्मू संभाग से जबकि 260 मामले कश्मीर से हैं। घाटी में सबसे अधिक संक्रमितों व ठीक होने की संख्या श्रीनगर से ही है। श्रीनगर में जहां अब तक 11 मरीज इस बीमारी से उबर चुके हैं। वहीं यहां इस समय संक्रमितों की संख्या भी 64 हैं। इसी तरह उत्तरी कश्मीर के बांडीपोरा से 10 मरीज भी ठीक होकर घर लौट गए हैं, इनमें दो मरीज सोपोर से हैं। इसी तरह उधमपुर से 4, बडगाम और जम्मू से तीन-तीन, पुलवामा, राजौरी और किश्तवाड़ से एक-एक मरीज स्वस्थ होकर घर लौट गया है।

वहीं संक्रमित मामलों की बात करें तो श्रीनगर में 65, बांडीपोरा में 54, बारामूला में 41, कुपवाड़ा में 25, शोपियां में 12, गांदरबल में 14, बडगाम में 9, कुलगाम में 5, पुलवामा में 2, अनंतनाग में 1, जम्मू में 23, उधमपुर में 15, राजौरी में 2 और सांबा में 4 संक्रमित मामले हैं। कुल मिलाकर 314 संक्रमित मामलों में 272 मामले ही सक्रिय हैं। इनमें 38 मरीज ठीक हो गए हैं जबक 5 की मौत हो चुकी है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप