श्रीनगर, एजेंसी। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने गुरुवार को शोपियां और हंदवाड़ा में आतंकियों से हुई मुठभेड़ में पांच आतंकियों को मार गिराया है।जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले के केलर इलाके में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच दिनदहाड़े हुए भीषण गोलीबारी में आतंकवादी मारे गए। यह ऑपरेशन केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल, भारतीय सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा किया गया।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया कि मुठभेड़ में मारे गए आतंकवादियों की पहचान सज्जाद खांडे, अकीब अहमद डार और बशारत अहमद मीर के रूप में की गई है। यह आतंकी संगठनों हिजबुल मुजाहिदीन और लश्कर-ए-तैयबा का एक संयुक्त समूह था।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कहा कि शोपियां मुठभेड़ में मारे गए आतंकवादियों और संगठन की पहचान हो गई है।सुरक्षाबलों ने मारे गए आतंकियों की पहचान अकीब अहमद निवासी भटनूर लस्सीपोरा पुलवामा, बशारत अहमद निवासी वासुरा पुलवामा और सज्जाद खांडे निवासी बामनू केलर शोपियां के रूप में की है। जबकि दो आतंकियों की पहचान नहीं हो पाई है। शोपियां में मारे गए सभी आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन के थे। दोनों जगहों पर सेना का ऑपरेशन अभी जारी है। सुरक्षाबलों को 4 से 6 आतंकियों के शोपियां में छिपे होने की सूचना के बाद सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन शुरू किया था।

जानकारी के मुताबिक केल्लर एक वन क्षेत्र है और सुरक्षा बलों को आतंकवादियों के एक बड़े समूह के छिपे होने की आशंका है जिसमें अधिक आतंकवादी होने की संभावना है। केल्लर जंगल के बरवान में आतंकवादियों के छिपे होने की खुफिया सूचना मिली जिसके बाद राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), जम्मू-कश्मीर पुलिस की विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों ने गुरुवार सुबह संयुक्त रुप से घेराबंदी एवं तलाश अभियान चलाया था।

जानकारी के मुताबिक सुरक्षा बल जब जंगल में एक विशेष क्षेत्र की ओर बढ़ रहे थे तो वहां छिपे आतंकवादियों ने उनपर गोलीबारी शुरु कर दी, सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की जिससे मुठभेड़ में शुरू हो गई। मुठभेड़ में पांच आतंकवादी मारे गए और अभियान अभी भी जारी है। मुठभेड़ के बाद सुरक्षा के मद्देनजर कुलगाम में इंटरनेट सेवा स्थगित कर दी गई है। किसी भी तरह के प्रदर्शन को रोकने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बल को तैनात किये गये हैं।मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद का पता चला है और सारे इलाके की नाकेबंदी कर दी गई है। मुठभेड़ अभी भी जारी है।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप