जम्मू, राज्य ब्यूरो। केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में कोरोना संक्रमण के 34 नए मामले सामने आने के साथ क्षेत्र में सक्रिय मामलों की संख्या 235 हो गई है। इनमें से 216 मामले लेह व 19 मामले कारगिल जिले में हैं।

लद्दाख स्वास्थ्य विभाग की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, क्षेत्र में 28 संक्रमित मरीज ठीक होकर अस्पतालों से घर लौट गए हैं। कारगिल के मुकाबले लेह में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में पिछले चार दिनों में लेह जिले में कोरोना संक्रमण के कारण एक मौत के साथ सौ से अधिक नए मामले सामने आए हैं। अब तक कोरोना के कारण से लद्दाख में 213 मौतें हुई हैं।

लद्दाख के लेह व जिलों में प्रशासन ने सख्ती करने के साथ लोगों को जागरुक करने की मुहिम भी तेज कर दी है। कोरोना का मिलकर सामना करने के लिए लोगों का सहयोग मांगा जा रहा है। इसके साथ स्वास्थ्य विभाग की टीमें लोगों को बता रही है कोरोना का नया डेल्टा वायरस पहले से ज्यादा खतरनाक है। ऐसे में संक्रमण से बचने के लिए हर संभव कार्रवाई की जाए। इसके साथ लोगों को संक्रमण से बचने के लिएजल्द कोरोना का दूसरा टीका लगने के लिए भी कहा जा रहा है। लेह के चीफ मेडिकल आफिसर डा दोरजे मोटुप भी लोगों से लगातार अपील कर रहे हैं।

इसी बीच प्रशासन के निर्देश पर लद्दाख आने वाले सभी लोगों की कोरोना स्क्रीनिंग की जा रही है। इसके साथ कोरोना के टेस्ट भी किए जा रहे हैं। ऐसे हालात में वीरवार को लद्दाख में 1369 कोरोना टेस्ट किए गए तो वहीं 1176 लोगों की कोरोना स्क्रीनिंग की गई। लेह में जिन इलाकों में संक्रमण के नए मामले आ रहे हैं वहां पर पूरी सख्ती की जा रही है। इसके साथ सरकारी कर्मचारियों, दैनिक वेतन भोगियों के कोरोना टेस्ट भी किए जा रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर लेह व कारगिल जिलों में कोरोना वैक्सीनेशन की दूसरी डोज लगाने की मुहिम भी जोरों पर है। अब तक लद्दाख में 45 से उपर के आयु वर्ग में 83317 लोगों को कोरेाना की दूसरी डोज दी गई। वहीं 18 वर्ष से उपर के आयुवर्ग में 81764 युवाओं को करोना की दूसरी डोज दी गई है। इसके साथ गर्भवती महिलाओं की भी प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीनेशन की जा रही है।

Edited By: Vikas Abrol