जम्मू, अंचल सिंह : रात के समय बिजली गुल होने पर भी जम्मू शहर अंधेरे में नहीं डूबा करेगा। बिजली गुल होने पर भी शहर की सभी स्ट्रीट लाइटें काम करेंगी। इतना ही नहीं सभी मुख्य मार्गों पर विशेष स्ट्रीट लाइटें लगाई जा रही हैं।

जम्मू नगर निगम ने शहर भर में स्ट्रीट लाइटें तो लगवा ही दी हैं, अब मुख्य मार्गों पर विशेष लाइटें लगाने की प्रक्रिया शुरू की है। इसके तहत न्यू प्लाट-जानीपुर मार्ग पर अलग से खम्भे लगाए जा रहे हैं। ऐसे ही शहर के सभी मार्गों पर इन खम्भों को लगाते हुए लाइटें लगाई जाएंगी। यह सभी लाइटें दिल्ली की कंपनी की देखरेख में काम करेंगी। इसके लिए कंपनी अलग से बिजली ढांचा तैयार कर रही है।

अलग से तारें डालने का काम भी चल रहा है। जब तारें डल जाएंगी और अपने बिजली के ट्रांसफार्मर लग जाएंगे तो फिर बिजली विभाग से कोई लेना-देना नहीं रह जाएगा। बिजली गुल होने की सूरत में भी यह लाइटें बंद नहीं होंगी। इसके लिए कंपनी अपना बैकअप तैयार करेगी।

20 करोड़ से पूरा होगा प्रोजेक्ट: जम्मू-कश्मीर में मुख्य मार्गाें पर विशेष लाइटें लगाने के प्रोजेक्ट पर करीब 20 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इस काम को शुरू कर दिया गया है। कुछेक महीनों में मुख्य मार्ग के बीचोंबीच यह लाइटें जगमगाना शुरू हो जाएंगी। अम्बफला-जानीपुर, बीसी रोड से एयरपोर्ट रोड, सतवारी से कुंजवानी, केनाल-तालाब तिल्लो मार्ग समेत विभिन्न मार्ग इसमें शामिल किए गए हैं। धीरे-धीरे सभी मार्गों पर इन लाइटों को लगाया जाएगा।

कंट्रोल रूम से होगी निगरानी: जम्मू नगर निगम ने अगस्त 2019 में केंद्र की कंपनी एनर्जी एफिसिएंसी सर्विस लिमिटेड (ईईएसएल) के साथ समझौता किया था। कंपनी शहर के हर बिजली के खंभे की निशानदेही करते हुए रजिस्ट्रेशन करेगी। कंप्यूटरीकरण के साथ हर खंभे का डाटा कंपनी के पास उपलब्ध रहेगा। डिजिटल इंडिया के तहत हर वार्ड के हर गली के खंभे की जानकारी कंपनी के कंट्रोल रूम के पास रहेगी। कंपनी शहर में अभी तक करीब 70 हजार स्ट्रीट लाइटें लगा चुकी हैं। अब मुख्य मार्गों पर यह लाइटें लगाने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है।

क्या कहते हैं अधिकारी: नगर निगम के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर लक्ष्मण सिंह जम्वाल का कहना है कि स्ट्रीट लाइटों के बाद अब मुख्य मार्गाें पर लाइटें लगाने का काम शुरू किया जा रहा है। शहर के सभी मुख्य मार्ग के बीचोंबीच या किनारों पर यह खम्भे लगाए जाएंगे। इतना ही नहीं कंपनी अपने बिजली के ट्रांसफार्मर और कंट्रोम रूम भी स्थापित करने जा रही है। इससे भविष्य में बिजली गुल होने की सूरत में भी यह स्ट्रीट लाइटें बंद नहीं होंगी। कंट्रोम रूम में कोई भी स्ट्रीट लाइट खराब होने पर फौरन पता चल जाएगा और इसे ठीक किया जा सकेगा। इससे शहर कभी अंधेरे में नहीं डूबेगा।  

Edited By: Rahul Sharma