जम्मू,  राज्य ब्यूरो: जम्मू-कश्मीर में मंगलवार को एक बार फिर से कई जिलों में वैक्सीन की कमी देखने कारे मिली। सीमित टीकाकरण केंद्रों पर ही अभियान चलाया गया। हालांकि तीस हजार से अधिक लोगों का टीकाकरण होने से अभी तक टीकाकरण करवाने वालों की संख्या 59 लाख के पार पहुंच गई है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के आंकड़ों के अनुसार मंगलवार को 45 साल से अधिक आयु वर्ग में 29,221 लोगों ने टीकाकरण करवाया। इसे मिलाकर इस आयु वर्ग में अभी तक 99.36 फीसद लोगों ने टीकाकरण करवा लिया है। लेकिन इस दौरान सभी जिलों में वैक्सीन की कमी देखने को मिली। सांबा जिले में टीकाकरण नहीं हुआ। पुंछ में 92 लोगों का टीकाकरण हुआ। जम्मू जिले में भी 3,822 लोगों का ही टीकाकरण हुआ। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि वैक्सीन कम आ रही है। जम्मू जिले में ही हर दिन बीस हजार से अधिक लोगों का टीकाकरण करने की क्षमता है लेकिन इसके अनुसार वैक्सीन नहीं आ रही है।

वहीं मंगलवार को 47 स्वास्थ्य कर्मियों और 193 फ्रंटलाइन वर्कर्स ने भी टीकाकरण करवाया। अभी तक कुल 59,54,003 लोगों ने टीकाकरण करवाया है। इनमें 18-44 साल के आयु वर्ग में लोग भी शामिल हैं।

कठुआ, सांबा और रियासी में अब नहीं आ रहे मामले: जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण के मामले बेशक अभी सौ से अधिक आ रहे हें लेकिन कठुआ, सांबा और रियासी जिलों में अब मामले नहीं आ रहे हैं। इन जिलों में कुछ दिनों से एक भी मामला नहीं आया है। मंगलवार को संक्रमण के कुल 107 मामले आए। इसके साथ ही अब तक 3,20,866 लोग संक्रमित हो चुके हैं। अच्छी बात यह है कि पिछले 24 घंटों में एक भी मरीज की मौत नहीं हुई। यही नहीं 183 और मरीज स्वस्थ होने के साथ ही अब तक 3,15,367 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

नेशनल हेल्थ मिशन से मिले आंकड़ों के अनुसार मंगलवार को आए 107 मामलों में से 40 जम्मू संभाग और 67 कश्मीर संभाग से हें। जम्मू संभाग में कठुआ, सांबा और रियासी जिलों में एक भी मामला नहीं आया। वहीं जम्मू जिले में 15, ऊधमपुर में सात, राजौरी में पांच और डोडा में सात मामले आए। वहीं कश्मीर संभाग में श्रीनगर में 31, बारामुला में सात और अनतंनाग में एक मामला आया। कुलगाम जिले में एक भी मामला नहीं आया। यही नहीं अब 183 और मरीजों के स्वस्थ होने के साथ ही अब 1124 ही सक्रिय मरीज रह गए हैं। इनमें कठुआ जिले में सबसे कम दो मरीज और शोपियां जिले में 11 और कुलगाम में 12 मरीज रह गए हैं। यह तीनों ही जिले कोरोना मुक्त होने की कगार पर है। अब तक जम्मू-कश्मीर में 4375 मरीजों की मौत हुई है। इनमें जम्मू जिले में 1132 और श्रीनगर जिले में 832 मरीजों की मौत हुई है।

Edited By: Rahul Sharma