राज्य ब्यूरो, जम्मू: कश्मीर में पर्यटन, सड़कों और बुनियादी ढांचे का निरीक्षण करने के लिए 31 सदस्यीय संसदीय कमेटी बुधवार को कश्मीर के तीन दिवसीय दौरे पर पहुंच गई। यह कमेटी वीरवार से बैठकें करेगी और पर्यटन से जुड़े लोगों के दिल की बात जानेगी।

तीन दिवसीय दौरे में यह संसदीय कमेटी कश्मीर में पर्यटन, संस्कृति, सड़क और परिवहन क्षेत्र की मौजूदा स्थिति के बारे में जानकारी लेगी। कमेटी के सदस्य पर्यटन विभाग के अधिकारियों के अलावा इस क्षेत्र से जुड़े लोगों से भी मिलेगी। पर्यटन विभाग के सचिव सरमद हफीज का कहना है कि पर्यटन से जुड़े लोगों को पेश आ रही मुश्किलों के बारे में कमेटी को बताया जाएगा।

कमेटी के सदस्य बुधवार को डाचीगाम नेशनल पार्क पहुंचे। वहां उन्होंने वन्यजीव संरक्षण और पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए हो रहे प्रयासों की जानकारी ली। यह कमेटी वीरवार सुबह श्रीनगर के एक होटल में पर्यटन से जुड़े लोगों के साथ बैठक करेगी। इसके बाद विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल गुलमर्ग का दौरा कर बुनियादी ढांचे का निरीक्षण करेगी। गुलमर्ग दौरे के समय पर्यटन मंत्रालय, पर्यटन विभाग, जम्मू कश्मीर पुलिस, इंस्टीट््यूट आफ होटल मैनेजमेंट, स्कीइंग व माउंटेयनरिंग संगठन व पर्यटन से जुड़े लोगों से बैठक भी होगी।इसमें बुनियादी ढांचे, दिक्कतों व चुनौतियों पर विचार विमर्श किया जाएगा।

कमेटी में जितेंद्र सिंह भी शामिल: कमेटी का नेतृत्व आंध्र प्रदेश से राज्यसभा के सदस्य टीजी वैंकटेश कर रहे हैं। प्रधानमंत्री कायार्लय के राज्यमंत्री डा. जितेंद्र सिंह भी इस कमेटी का हिस्सा हैं। यह कमेटी सांसद एवं नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष डा. फारूक अब्दुल्ला समेत कुछ अन्य नेताओं से भी मिल सकती है।

सड़कों की हालत पर भी होगी बात: सड़कों की हालत को लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण और संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ भी कमेटी की बैठक होनी है। यह कमेटी जम्मू कश्मीर में सड़क, हवाई और रेल मार्ग से यात्रा की भी समीक्षा करेगी। जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग व अन्य सड़कों पर भूस्खलन से होने वाली दिक्कतों को लेकर भी विचार विमर्श होगा।

 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप