जेएनएफ, जम्मू : राज्य हाईकोर्ट ने 16 अक्टूबर को प्रस्तावित जम्मू नगरनिगम की सिविल सफाई कर्मचारी यूनियन के चुनाव पर रोक लगा दी है। अखिल भारतीय सफाई मजदूर संघ ने तीन अक्टूबर 2018 को जारी अधिसूचना को चुनौती दी, जिसके तहत यूनियन के चुनाव करवाए जा रहे हैं। हाईकोर्ट ने याचिका पर गौर करने के बाद राज्य सरकार की ओर से पेश हुए सीनियर एडिशनल एडवोकेट जनरल एसएस नंदा को निर्देश दिए कि जब तक याची द्वारा रखे गए तर्क पर उचित निर्णय नहीं होता, तब तक चुनाव न करवाए जाए। हाईकोर्ट ने इस संदर्भ में हाईकोर्ट के 27 सितंबर 2018 के आदेश का पालन करने के निर्देश भी दिए।

याचिका में कहा गया कि तीन अक्टूबर 2018 को जारी अधिसूचना के तहत सिविल सफाई कर्मचारी यूनियन के चुनाव करवाए जा रहे हैं, लेकिन ऐसी आशंका है कि इस चुनाव में वो कर्मचारी भी हिस्सा लेंगे जो नगरनिगम के सफाई कर्मचारी नहीं है। ऐसे में इस चुनाव का उद्देश्य ही खत्म हो जाता है। ऐसे में नगरनिगम को निर्देश दिए जाने चाहिए कि चुनाव में उन्हीं को हिस्सा लेने की अनुमति दी जाए तो वास्तव में सफाई कर्मचारी है। याची ने कहा कि उन्होंने इस मुद्दे पर पहले भी याचिका दायर की थी और 27 अक्टूबर 2018 को हाईकोर्ट ने नगरनिगम को याची के तर्क पर गौर करके कानून के तहत उचित फैसला लेने का निर्देश दिया था, लेकिन नगरनिगम ने बिना कोई निर्णय लिए चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी।

Posted By: Jagran