श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों द्वारा बीती रात अगवा किए गए एक युवक का गोलियों से छलनी शव सोमवार की सुबह एक बाग में मिला। फिलहाल, पुलिस ने शव काे पोस्टमार्टम के बाद उसके वारिसों के हवाले कर दिया है। किसी आतंकी संगठन ने इस वारदात की जिम्मेदारी नहींं ली है।

यहां मिली जानकारी के अनुसार, आज सुबह बुनपोरा,पुलवामा में लोगों ने गांव के बाहरी छोर पर स्थित बाग में एक युवक का गोलियों से छलनी शव देखा और उसी समय पुलिस को सूचित किया। पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और उसने शव को अपने कब्जे में ले लिया। पुलिस ने दिवंगत के बारे में जब छानबीन की तो पता चला कि वह बुनपोरा के रहने वाले अब्दुल गनी बट का बेटा गुलजार अहमद बट है।

पोस्टमार्टम व अन्य कानूनी औपचारिकताओं को पूरा करनेके बाद पुलिस ने दिवंगत का शव उसके परिजनों के हवाले कर दिया है। पुलिस के अनुसार, शुरुआती जांच में पता चला है कि दिवंगत गुलजार अहमद बट जिला अनंतनाग के बीजबेहाड़ा में एक मेडिकल क्लिनिक चलाता था। उसका एक आई क्लिनिक भी था। वह गत शाम साढ़े चार बजे अपने घर लौटा था।

उसे आतंकियों ने घर से अगवा किया था या किसी और जगह से अभी इस तथ्य का पता किया जा रहा है। लेकिन बीती रात 10 बजे स्थानीय लोगों ने गांव के बाहरी छोर पर गोलियों की आवाज सुनी थी। लेकिन डर के मारे काेई घर से बाहर नहीं निकला था। आज सुबह जब लोग घरों से बाहर निकले और उस जगह पहुंचे जहां से गोलियों की आवाज आई थी तो उन्हें वहां गुलजार का शव मिला।

स्थानीय लोगों के अनुसार, आतंकियों को गुलजार पर सुरक्षाबलों का मुखबिर होने का संदेह था।इसलिए उन्होंने उसे मौत के घाट उतारा है।

Posted By: Preeti jha