जम्‍मू, एएनआइ। पाकिस्‍तान रमजान के पाक महीने में भी अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। जम्मू-कश्मीर के आरएस पुरा सेक्टर में पाकिस्तानी सेना की ओर से गुरुवार रात एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया गया। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की ओर से पाकिस्तानी सेना को माकूल जवाब दिया गया। लेकिन इस दौरान एक बीएसएफ जवान शहीद हो गया है। इसके अलावा एक जवान और दो नागरिक भी पाक की ओर से हो रही गोलीबारी में घायल हुए हैं, जिनका नजदीकी अस्‍पताल में इलाज चल रहा है।

इस साल की शुरुआत से ही आरएस पुरा सेक्‍टर में पाकिस्‍तान की ओर से लगातार सीजफायर का उल्‍लंघन हो रहा है। लगातार बॉर्डर पार से हो रही गोलीबारी के कारण जनवरी में सेना ने आम नागरिकों को यहां से सुरक्षित जगह शिफ्ट कर दिया था। इसके कुछ समय बाद यहां माहौल थोड़ा शांत हुआ था।

पाक गोलीबारी में मारे गए बीएसएफ जवान का नाम कांस्‍टेबल सीताराम उपाध्‍याय था, जो झारखंड का रहने वाला था। उनकी एक तीन साल की बेटी और एक साल का बेटा है।

ज्ञात हो कि पाकिस्तान की ओर से रमजान के पहले दिन ही जम्मू-कश्मीर के सांबा और कठुआ जिलों में बुधवार को रातभर 15 सीमा चौकियों और कुछ रिहायशी इलाकों पर गोलीबारी की गई और मोर्टार दागे गए। इसमें बीएसएफ का एक जवान घायल हो गया था। चार माह तक शांत रहने के बाद पाकिस्तान ने हीरानगर सेक्टर में संर्घष विराम का उल्लंघन करते हुए अपने तोपों के मुंह भारतीय की ओर खोल दिए। बुधवार रात से पूरे क्षेत्र में पाकिस्तान द्वारा की जा रही भारी गोलाबारी से नागरिकों, सुरक्षा बलों और पशुओं को भारी नुकसान हुआ है। अकारण गोलाबारी से लोंडी गांव के स्थानीय दौलत राम घायल हो गए। जिसे प्राथमिक उपचार के लिए स्थानीय सब जिला अस्पताल हीरानगर में भर्ती कराया गया है।

By Tilak Raj