जम्मू, राज्य ब्यूरो। केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के कारगिल जिले के दूरदराज इलाकों में 100 लाइब्रेरियां शिक्षा को बढ़ावा देंगी। इनमें से 47 पब्लिक लाइब्रेरियां बनकर तैयार हाे गई हैं। अगले वित्त वर्ष में दूरदराज के गांवों में 53 लाइब्रेरियां बनाने का लक्ष्य है।

दूरदराज इलाकों में शिक्षा क्षेत्र हासिल करने के लिए बच्चों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। ऐसे में लद्दाख के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद अब दूरदराज इलाकों में शिक्षा के बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देना उपराज्यपाल प्रशासन की प्राथमिकता है। अब गांवों में बन रही लाइब्रेरियों में बच्चे पढ़ाई कर अपने भविष्य को बेहतर बनाने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

कारगिल के असिस्टेंट कमिश्नर गुलाम मोहम्मद का कहना है कि लद्दाख के यूटी बनने के बाद उतना विकास हो गया जितना पिछले कई दशकों में नही हो पाया। उन्होंने बताया कि ग्रामीण इलाकों की जरूरतों को पूरा किया जा रहा है। गांवों में लाइब्रेरी बनाकर बच्चों के लिए पढ़ाई करने का माहौल पैदा किया जा रहा है। लाइब्रेरियां समाज में जागरूकता लाती हैं।

इसी बीच ग्रामीण इलाकों में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सड़कें बनाने के साथ विंटर गेम्स के लिए बुनियादी ढांचे को भी लगातार मजबूत किया जा रहा है। ऐसे में पिछले दो सालों में कारगिल जिले में आइस हाकी प्रतियोगिताओं के लिए दूरदराज इलाकों में 22 रिंक बनाए गए हैं। इनमें सर्दियों के महीनों में लगातार खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है।

Edited By: Vikas Abrol