नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। भारतीय हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक में जोरदार वापसी करते हुए तीसरे मुकाबले में स्पेन की टीम के खिलाफ एकतरफा जीत दर्ज की। भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मिली हार से उबरते हुए स्पेन के खिलाफ 3-0 की दमदार जीत हासिल की। रुपिंदर सिंह पाल ने टीम की तरफ से सबसे ज्यादा दो गोल किए और मैच के हीरो बने।

मंगलवार को टोक्यो ओलिंपिक के अपने तीसरे मुकाबले में खेलने उतरी भारतीय टीम ने स्पेन के खिलाफ शुरुआत से ही आक्रामक खेल दिखाया। मैच से 14वें मिनट में ही सिमरनजीत सिंह ने गोल कर भारत को बढ़त दिलाई। पहले क्वार्टर में भारत की तरफ से रुपिंदर पाल ने दूसरा गोल दागा। यह गोल पिछले गोल के एक मिनट बाद ही किया गया। भारत को पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसका फायदा उठाते हुए रुपिंदर ने बढ़त को 2-0 कर दिया।

दूसरे और तीसरे क्वार्टर गोल रहित

पहले क्वार्टर में दो गोल खाने के बाद स्पेन की रक्षा पंक्ति बेहतर नजर आई। भारतीय टीम लगातार आक्रमण पर रही लेकिन फिर भी वह गोल करने में कामयाब नहीं हो पाई। स्पेन की तरप से भी लगातार कोशिश जारी रहा लेकिन वह भारत के गोल को भेद नहीं पाए। गोल नहीं कर पाने की छटपटाहट स्पेन के कप्तान मिग्युएल डेलास पर नजर आई और ज्यादा आक्रामक होने की वजह से पीला कार्ड भी दिखाया गया। 5 मिनट तक बाहर बैठने के बाद उनको दोबारा उतरने का मौका मिला।

आखिरी क्वार्टर में तीसरा गोल

भारतीय टीम आखिरी क्वार्टर में कुछ अलग प्लान लेकर उतरी और टीम को रुपिंदर ने सफलता दिला। पेनाल्टी कॉर्नर का भरपूर फायदा उठाते हुए इस खिलाड़ी ने मैच में दूसरा जबकि भारत का तीसरा गोल किया। इस गोल के बाद मैच में इतना वक्त नहीं बचा था कि स्पेन को वापसी का मौका मिले। मैच 3-0 से भारत के हक में और दूसरी जीत के साथ टीम इंडिया ने अंक हासिल किया।

 

Edited By: Viplove Kumar