जकार्ता। भारतीय महिला हॉकी टीम ने 18वें एशियन गेम्स के अपने दूसरे लीग मुकाबले में कजाखस्थान की टीम को 21-0 के बड़े अंतर से हराया। महिला टीम ने इससे पहले अपने पहले मुकाबले में इंडोनेशइया को 8-0 से हराया था।  कजाखस्थान के खिलाफ गुरजीत कौर, नवनीत कौर व लालरेमसियामी ने हैट्रिक गोल किए। 

खेल की शुरुआत में दोनों ही टीमें गोल के लिए संघर्ष करती दिखीं लेकिन भारत को पांचवें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर मिला। इसका फायदा भारतीय टीम नहीं उठा पाई और गोल करने में कामयाब नहीं हो सकी। इसके तुरंत बाद भारत को एक और पेनल्टी कॉर्नर मिला और इस बार गुरजीत ने बिना कोई गलती किे टीम के लिए पहला गोल कर दिया। नौवें मिनट में लिलिमा के पास पर लारेस्वामी ने टीम के लिए दूसरा गोल कर दिया। इसके बाद वंदना कटारिया ने नवदीप कौर को पास दिया और टीम को एक और गोल का इजाफा हुआ। नवनीत ने भारत के लिए छठा गोल कर टीम के स्कोर को 6-0 कर दिया। खेल के18वें मिनट में भारतीय टीम ने एक और गोल कर दिया और विरोधी टीम पर पूरी तरह से हावी दिखी। खेल के 30वें मिनट में लालरेमसियानी ने अपना तीसरा गोल किया और भारत के लिए ये नौवां गोल था। पहले हाफ में भारत विरोधी टीम से 9-0 से आगे था।

खेल के दूसरे हाफ में भारत की तरफ से 10वां गोल उदिता ने किया। 35वें मिनट में भारतीय टीम को एक और पेनल्टी स्ट्रोक मिला और इसका फायदा उठाते हुए गुरजीत कौर ने आसान गोल कर दिया। 37वें मिनट में लिलिमा ने नवनीत के पास पर गोल कर दिया जबकि 38वें मिनट में नमिता ने गोल कर भारत को 13-0 की बढ़त दिलाई। 44वें मिनट में गुरजीत ने पेनल्टी कॉर्नर पर भारत के लिए 15वां गोल किया। भारत का 16वां गोल 45वें मिनट में लिलिमा ने पेनल्टी कॉर्नर पर किया। 50वें मिनट में नवनीत ने 17वां गोल किया। इसके बाद भारत के लिए वंदना ने गोल किया जबकि 54वें मिनट में नवजोत ने अपना पहला गोल दागा। 

अनुभव की कमी कजाखस्तान की टीम में साफ दिखी और इसका फायदा भारतीय महिला टीम ने जमकर उठाते हुए बड़ी जीत दर्ज की। टीम की कप्तान रानी रामपाल और सविता इस मैच में नहीं खेलीं। 

Posted By: Sanjay Savern