भुवनेश्वर, आइएएनएस। गोलकीपर आकाश चितके के शानदार प्रदर्शन की बदौलत मेजबान भारत ने बुधवार को यहां बेल्जियम को पेनाल्टी शूटआउट में 3-2 से पराजित कर विश्व हॉकी लीग फाइनल के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। यहां कलिंग स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में दोनों टीमें निर्धारित समय के बाद 3-3 से बराबर थीं।

भारत की ओर से गुरजंट सिंह (31वें मिनट), हरमनप्रीत सिंह (34वें मिनट) और रुपिंदर पाल सिंह (46वें मिनट) ने गोल दागे। बेल्जियम की ओर से लोईक लुईपेर्ट ने 38वें और 46वें मिनट में दो पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में बदला, जबकि आर्मरी क्यूस्र्ट्स ने 52 में मिनट में गोल दागकर अपनी टीम को बराबरी दिलाई।

निर्धारित समय में स्कोर बराबर रहने के बाद पेनाल्टी शूटआउट का सहारा लिया गया। इसमें एशियाई चैंपियन भारत ने अपने से ऊंची रैंकिंग की टीम बेल्जियम को 3-2 से शूट कर दिया। पेनाल्टी शूटआउट के दौरान भारत की ओर से ललित उपाध्याय, रुपिंदर और हरमनप्रीत ने गोल दागे, जबकि चिकते ने शूटआउट के दौरान बेल्जियम के चार खिलाड़ियों को गोल करने से रोका। 

स्पेन को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचा ऑस्ट्रेलिया

ब्लैक गोवर्स की ओर से किए गए दो गोल के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने विश्व हॉकी लीग फाइनल में बुधवार को क्वार्टर फाइनल में स्पेन को 4-1 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। स्पेन ने अपने आखिरी लीग मैच में दुनिया की नंबर एक टीम अर्जेटीना को हराकर उम्मीदें जगाई थी, लेकिन बुधवार को ऑस्ट्रेलिया ने आखिरी क्वार्टर में तीन गोल करके उसकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

स्पेन ने आक्रामक शुरुआत करते हुए 20वें मिनट में मार्क गार्शिया के गोल की मदद से बढ़त बनाई। ऑस्ट्रेलिया को बराबरी के गोल के लिए 15 मिनट तक इंतजार करना पड़ा। उसके लिए पहला गोल 28वें मिनट में जेरेमी हैवर्ड ने किया। हाफटाइम तक स्कोर 1-1 से बराबर था।1दूसरे हाफ में ऑस्ट्रेलिया ने स्पेन को कोई मौका नहीं दिया। लीग चरण में भारत, इंग्लैंड और जर्मनी से ड्रॉ खेलने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम ने तीन मिनट के भीतर तीन गोल किए। पहले एरोन ने 48वें मिनट में पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल दागा।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें  

By Pradeep Sehgal