नई दिल्ली, आनलाइन डेसक। हॅाकी मेंस फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को हराया। ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 7-0 से करारी शिक्सत दी है। इसी के साथ भारत ने सिल्वर मेडल जीत लिया। बता दें कि मेंस हॅाकी में भारत ने तीसरी बार सिल्वर मेडल जीत लिया। गौरतलब है कि इस गेम में एक बार भी टीम इंडिया को पेनेल्टी कॅार्नर का मौका नहीं मिला।

जानिए हर क्वार्टर का हाल

पहले क्वार्टर में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने अटैकिंग शुरुआत की। शुरुआत के कुछ मिनटों में ही ऑस्ट्रेलिया की टीम ने एक गोल करने का मौका बन लिया। गेम के चौथे मिनट में ऑस्ट्रेलिया को पेनेल्टी कॅार्नर मिला लेकिन भारत ने गोल होने से बचा लिया। पहले क्वार्टर के सात मिनट पहले ऑस्ट्रेलिया टीम को दूसरा पेनेल्टी कॅार्नर मिला लेकिन भारत ने यह भी बचा लिया। गोलकीपर श्रीजेश ने शानदार ढंग से गोल बॅाल को गोल पोस्ट में जाने से बचा लिया।

गेम के 10वें मिनट में एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया को पेनेल्टी कॅार्नर मिला और इस बार ऑस्ट्रिलया गोल करने में कामयाब रहे। पहला क्वार्टर समाप्त होने से दो मिनट पहले ऑस्ट्रेलिया ने दूसरा गोल किया। पहला क्वार्टर समाप्त होने के बाद भारत 0-2 से पीछे थे। ऑस्ट्रेलिया के नाथन एफ्राम्स ने दूसरा गोल किया।

हाफ टाइम के बाद...

हाफ टाइम समाप्त से 8 मिनट पहले ऑस्टेलिया को चौथा पेनेल्टी कॅार्नर मिला और भारत ने गोल होने से बचा लिया लेकिन उसके तुरंत बाद एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया को पेनेल्टी कॅार्नर का मौका मिला और इस बार विरोधी टीम ने गोल कर दिया। गेम के 25वें मिनट में भारतीय टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह चोटिल हो गए। हाफ टाइम के चार मिनट पहले ऑस्ट्रेलिया ने चौथा गोल किया। वहीं, हाफ टाइम समाप्त होने से तीन महीने पहले ऑस्ट्रेलिया ने पांचवा गोल किया।

तीसरे क्वार्टर में भी ऑस्ट्रेलिया की टीम ने अटैकिंग खेल जारी रखी। इसी के साथ तीसरा क्वार्टर समाप्त होने के बाद भारत 0-6 से पीछे रहे। 

चौथे क्वार्टर में भी ऑस्ट्रेलिया ने गोल करने का सिलसिला जारी रखा और इस क्वार्टर के शुरुआत में ही सातवां गोल कर दिया। अंत में ऑस्ट्रेलिया ने सात गोल करते हुए फाइनल मुकाबला जीत लिया।

Edited By: Piyush Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट