गगरेट, जेएनएन। जिला ऊना के गगरेट में हुए बहुचर्चित छेड़छाड़ मामले में छात्रा द्वारा बयान बदलने के पर जिला एसपी ने पुलिस को तुरंत चालान पेश करने के निर्देश दिए हैं। इससे पूर्व छात्रा ने पुलिस के समक्ष अपने बयान बदल दिए थे, लेकिन छात्रा ने स्कूल में कॉउंसिलिंग के दौरान माना कि उस पर मामले को लेकर दबाब बनाया गया था। इस मामले को दैनिक जागरण ने प्रमुखता से उठाया था। इस मामले में छात्रा की एक रिकॉर्डिंग भी सामने आई है जो छह मिनट की अवधि की है। इस रिकॉडिंग में छात्रा ने लाडली रक्षक संस्था की अध्यक्ष रेखा जम्‍वाल के सामने पूरे मामले का खुलासा किया है कि लड़की ने किन हालात में अपने बयान बदले थे।

इस रिकॉर्डिंग को आधार मानकर और लाडली रक्षक संस्था की अध्यक्ष को भी इस मामले में पुलिस ने अपना गवाह बनाने की बात कही है। करीब सात दिन पहले हुए इस मामले में एक अध्यापक द्वारा ट्यूशन के बहाने छात्रा को अपने घर पर बुलाकर छेड़छाड़ की थी। छात्रा द्वारा स्कूल में यौन उत्‍पीड़न रोकथाम कमेटी के समक्ष पूरे मामले का खुलासा किया था। स्कूल कमेटी द्वारा मामला पुलिस ने दर्ज करवा दिया गया। लेकिन पुलिस के समक्ष छात्रा ने अपना बयान बदल दिया था, जिसके बाद इस मामले को लेकर अलग अलग अटकलें लगनी शुरू हो गई थीं।

इस मामले में कुछ लोग पैसे के दबाब और राजनीतिक पहुंच की बात भी कर रहे थे। लेकिन पूरे मामले में अभी तक पुलिस खाली हाथ है। छात्रा के ताजा खुलासे के बाद पुलिस विभाग अब हरकत में आया है और जल्द ही आरोपित को सलाखों के पीछे होने की बात कही जा रही है।

पीड़ित छात्रा की एक रिकॉर्डिंग सामने आई है जो उसने एक महिला के समक्ष बातचीत की है फिलहाल रिकॉर्डिंग और महिला के बयान लिए जाएंगे और इस मामले में तुंरंत चालान पेश करने के आदेश दे दिए गए हैं।

-दिवाकर शर्मा, पुलिस अधीक्षक, ऊना

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस