जागरण संवाददाता, ऊना : जिले में गठित पंचायत टास्क फोर्स की मदद से कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने वाले लाभार्थियों को प्रेरित किया जाएगा। यह बात शुकव्रार को उपायुक्त राघव शर्मा ने जिलास्तरीय टास्क फोर्स बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही। उन्होंने कहा कि जिले में दूसरी डोज के लिए चार लाख 20 हजार लाभार्थियों के टीकाकरण का लक्ष्य मिला है, जिसे नवंबर के अंत तक पूरा किया जाना है।

शर्मा ने कहा कि इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए सभी स्वास्थ्य खंडों में काल सेंटर के माध्यम से कालिग की जाएगी। उन्हें निकटतम टीकाकरण केंद्र पर बुलाया जाएगा। इसके अतिरिक्त नवंबर के पहले सप्ताह से पंचायतों में आशा वर्कर्स डोर-टू-डोर सर्वे भी आरंभ करेंगी। शहरी क्षेत्रों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर घर-घर जाकर सर्वेक्षण किया जाएगा।

जिला ऊना में 4.33 लाख व्यक्तियों को कोविड वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है, जबकि 2.65 लाख लाभार्थियों को दूसरी खुराक दे दी गई है। उन्होंने उम्मीद जताई कि त्यौहारी सीजन के बाद दूसरी डोज के टीकाकरण का अभियान रफ्तार पकड़ेगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय औसत के हिसाब से हिमाचल प्रदेश टीके की दूसरी डोज लगवाने में काफी आगे है। राघव शर्मा ने अपील की है कि पहले टीके के बाद 84 दिन की अवधि पूरा कर चुके सभी लाभार्थी दूसरा टीका लगवाने के लिए आगे आएं और कोरोना वायरस से सुरक्षा पाएं। बिना दूसरी डोज लगवाए सुरक्षा चक्र पूरा नहीं होगा। इस मौके पर एसडीएम, बीडीओ, सीएमओ डा. रमण कुमार शर्मा, डा. निखिल शर्मा और सभी बीएमओ उपस्थित रहे। डुप्लीकेट एंट्री दुरस्त करवाएं लाभार्थी

बैठक में कोविन वेबसाइट पर लाभार्थी की डुप्लीकेट एंट्री का मामला भी उठा। जिलाधीश के ध्यान में लाया गया है कि कुछ लाभार्थियों ने अलग-अलग मोबाइल नंबर से दो डोज लगवा ली हैं, जो दोनों नंबर पर पहली डोज ही दिखा रही है। ऐसे में जो लाभार्थी अलग-अलग फोन नंबर से दो डोज लगवा चुके हैं वो दोनों डोज का सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर गलती ठीक करवा लें।

Edited By: Jagran