अम्ब, अजय टबयाल। ऊना ज़िले के अम्ब उपमंडल में स्कूली छात्रा के साथ दुष्कर्म के मामले में ग्रामीणों ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। सैकड़ों ग्रामीण सुबह स्‍कूल के बाहर प्रदर्शन कर रहे थे। लेकिन कुछ देर बाद उन्‍होंने अंदर का रुख कर लिया। ग्रामीण स्‍कूल परिसर में प्रदर्शन कर रहे हैं। विभाग के अधिकारियों व पुलिस अफसरों ने बंद कमरे में बैठक शुरू कर दी है।

सुबह अभिवावकों ने आज किसी भी अध्यापक को स्कूल में नहीं जाने दिया। गेट पर अध्यापकों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। सभी अध्यापकों को स्कूल के बाहर रोक दिया गया। अभिवावक पूरे स्कूल के स्टाफ को बर्खास्त करने की मांग पर अड़े हैं। स्‍कूल परिसर में हंगामे के बीच बच्‍चे भी सहम उठे हैं।

उपनिदेशक उच्च शिक्षा विभाग का कहना है मामले की रिपोर्ट शिक्षा निदेशक को भेजी जा रही है, वहां से क्या आदेश आते हैं, उसके मुताबिक आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उधर एसडीएम के अनुरोध पर भी अभिवावकों ने शिक्षकों को अभी तक स्कूल के भीतर नहीं जाने दिया। स्कूल में आज पढ़ाई नहीं हो पाएगी। दैनिक जागरण को मिली जानकारी के अनुसार आज ही स्कूल के तमाम स्टाफ को ट्रांसफर किया जा सकता है और प्रतिनियुक्ति पर यहां नए अध्यापकों को भेजा जा सकता है। बताया जा रहा है स्कूल के बच्चों को होम वर्क देने के लिए दूसरे स्कूलों के अध्यापकों को बुलाया जा रहा है। स्कूल के अध्यापकों से पूछताछ के लिए महिला थाना ऊना से अधिकारी बुलाए गए हैं। स्कूल के बाहर पंचायत भवन में स्‍टाफ सदस्‍यों से पूछताछ होगी।

स्‍टाफ की संलिप्‍तता हुई तो होगी कार्रवाई : निदेशक

इस मामले उच्चतर शिक्षा निदेशालय के निदेशक डॉ अमरजीत कुमार शर्मा का कहना है ऊना एसडीएम इसकी जांच कर रहे हैं। यदि स्कूल अन्य स्टाफ ने मामले को रफा दफा करने में संलिप्तता पाई गई तो सभी पर कार्रवाई होगी। फिलहाल आरोपित शिक्षक को निलंबित कर दिया गया है। जल्द ही इसके निर्देश ऊना शिक्षा उपनिदेशक को भेज दिए जाएंगे।

अभिभावकों का आरोप है स्कूल प्रबंधन व अध्यापकों ने इस मामले को दबाने का प्रयास किया है। यहां तक कि आरोपित को पुलिस के हवाले करने की जरूरत भी महसूस नहीं की। उधर मामला गंभीर होता देख उप निदेशक उच्च शिक्षा कमलेश कुमारी के अलावा पुलिस प्रशासन भी मौके पर पहुंच चुका है। बता दें कि दो दिन पहले अम्ब उपमंडल मुख्यालय के समीप एक वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में जमा दी की छात्रा ने स्कूल के आइटी अध्यापक पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। उच्च शिक्षा उपनिदेशक कमलेश कुमारी के अलावा डीएसपी हेडक्‍वार्टर अशोक वर्मा, एसडीएम अम्ब तोरुल रवीश, डीएसपी अम्ब मनोज जम्वाल, एसएचओ अम्ब मौके पर पहुंच गए।

अम्ब के स्कूल में जब अभिवावकों ने अध्यापकों को स्कूल के भीतर नहीं जाने दिया तो थाना प्रभारी अम्ब गौरव भारद्वाज ने दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों को पढ़ाना शुरू कर दिया। उन्‍होंने विद्यार्थियों को अंग्रेजी और हिंदी विषय पढ़ाए।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस