जागरण संवाददाता, ऊना : कोरोना महामारी से पूरा विश्व जूझ रहा है। भारत में भी कोरोना के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में आयुर्वेद से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर कोरोना को मात दे सकते हैं। शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करें। यह कहना है जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ. सुशील चंद्र नाग का।

दैनिक जागरण की ओर से ऊना उपकार्यालय में आयोजित हेलो जागरण कार्यक्रम में डॉ. सुशील चंद्र नाग ने दूरभाष के माध्यम से लोगों की शंकाओं का समाधान किया।

कहा कोरोना का इलाज अभी नहीं निकल पाया है लेकिन अगर हम अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनाएं तो इस महामारी से चल रही जंग को जीत सकते हैं। रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए आयुर्वेद के देशी काढ़े का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करें। सुबह उठकर एक घंटा प्राणायाम करें।

डॉ. नाग ने बताया की यह वायरस गले से फेफड़ों में पहुंचता है, तब नुकसान पहुंचाता है, इसलिए इससे बचाव जरूरी है। कोरोना से घबराए नहीं, यदि किसी व्यक्ति की कांटेक्ट व ट्रेवलिग हिस्ट्री नहीं है तो उसे घबराने की जरूरत नहीं है। वह साधारण जुकाम व खांसी से न घबराए। बाजार में सब्जी लेने जाते हैं तो मास्क लगाकर घर से निकलें। प्लास्टिक पर यह वायरस ज्यादा समय तक रहता है। इसके साथ ही अपने चश्मे, पर्स, घड़ी, मोबाइल फोन को समय-समय पर सैनिटाइज करें।

----------------

कोरोना से कैसे करें बचाव

डॉ. सुशील चंद्र नाग ने बताया हम घर पर बैठकर भी काढ़ा तैयार कर सकते हैं। इसके लिए बनफशा, मीठी सौंफ, मुनक्का, दालचीनी, गुलाब व मधुयष्टि को लेकर इसे तैयार कर सकते हैं। इस तरह के काढ़े आयुर्वेद डिस्पेंसरियों व अस्पतालों में मिल रहे हैं। इसको प्रयोग में लाने के लिए इस पैक से एक दो चम्मच काढ़ा एक बर्तन में उबाल लें और 200 मिलीलीटर पानी में डालें। हल्की आंच पर एक चौथाई रहने पर इसे एक गिलास में छान लें। इसमें स्वादानुसार गुड़, शहद, नींबू का रस मिलाया जा सकता है। सुबह शाम इसका सेवन कर सकते हैं।

---------

इन लोगों ने पूछे सवाल

डॉ. सुशाील चंद्र नाग से पालमपुर के डॉ. राजन मल्होत्रा, पवन शर्मा धर्मशाला, केवल मलांगढ़, शक्ति चंद मटौर, तृप्ता देवी भदसाली, घुमारवीं के राकेश कुमार, कांगड़ा डाडासीवा की मंजू, संतोषगढ़ नगर की रजनी, प्रीति, शशि, किरण बाला, बहड़ाला के रमन कुमार, रायेपुर सहोड़ा के राकेश कुमार ने कोरोना से बचाव के उपाय जानें। इसके अलावा कमल कुमार, चितपूर्णी के संजीव कुमार, जौडबड़ के नीरज कुमार, किन्नू की भावना, अम्ब के राजीव कुमार शर्मा, दौलतपुर चौक के सन्नी शर्मा, हटली के अक्षय, दिल्ली के विकास, ऊना के संजीव पराशर, खड्ड गांव के नसीब सिंह, पंजावर गांव के रणजीत सिंह, ऊना शहर के हरीश कुमार, राजेंद्र कुमार, दीना नाथ ने आयुर्वेद से कोरोना को मात देने के तरीके जानें।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस