संवाद सहयोगी, ऊना : जिला ऊना में चल रही एंटी रेबीज इंजेक्शन की किल्लत एक बार फिर सामने आने लगी है। स्वास्थ्य संस्थानों में एंटी रेबीज इंजेक्शन अब फिर से कम पड़ने लगे हैं। ताजा मामले में वेटरनरी अस्पताल के कर्मचारी सुभाष चंद को एक कुत्ते ने काट लिया था। वह एंटी रेबीज इंजेक्शन लगवाने के लिए भरवाई अस्पताल में गया लेकिन वहां पर उक्त इंजेक्शन नहीं मिला। इसके बाद वह अम्ब अस्पताल पहुंचा। यहां पर भी एंटी रेबीज इंजेक्शन न होने की दुहाई दी गई। इसके बाद सुभाष क्षेत्रीय अस्पताल ऊना पहुंचा और इंजेक्शन लगवाया।

इस बारे में सीएमओ रमन कुमार ने बताया कि प्रदेश सहित जिला में भी एंटी रेबीज इंजेक्शन की सप्लाई पीछे से नहीं आ रही है। हालांकि जितना भी स्टॉक इन टीकों का आ रहा है उसे बांटकर जिला की सीएचसी सहित क्षेत्रीय अस्पताल में भेजा जा रहा है।

उधर सुभाष चंद ने कहा कि आवारा कुत्तों व अन्य जानवरों के काटने पर भी कई बार एंटी रेबीज इंजेक्शन को लगाने की जरूरत पड़ती है। इसकी किल्लत दूर होनी चाहिए ताकि कई दूर दराज के गांवों में बसे लोगों को कई किलोमीटर का सफर तय कर ऊना न आना पड़े। सीएचसी पर भी इसका स्टॉक उपलब्ध होना चाहिए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप