ऊना, पूर्ण चंद शर्मा। अगर आप मिठाई खाने के शौकीन हैं और त्योहारी सीजन में मिठाई खरीद रहे हैं, तो जरा संभल जाएं, यह मिठाई आपकी व आपके परिवार की सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। क्योंकि जिला में मिठाई की जांच के लिए कोई भी पुख्ता इंतजाम नहीं हैं। इसके चलते न तो जिला में मिठाई या अन्य दूध से बने उत्पादों के सैंपल भरे गए हैं और न ही इनकी जांच हो पाई है। लेकिन सरकार ने इसे कभी गंभीरता से नहीं लिया।

अब त्योहारी सीजन शुरू हो गया है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने अब तक किसी भी दुकान का निरीक्षण करके मिठाई या अन्य खाद्य पदार्थों के सैंपल नहीं भरे हैं। इसके चलते इतने सालों से ऊना के लोगों की सेहत रामभरोसे ही चल रही है। हालांकि फेस्टिवल सीजन शुरू हो गया है लेकिन मिलावटखोरों पर लगाम लगाने के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की कोई भी तैयारी नहीं है। जिला में मौजूदा समय में आलम यह हो गया है कि अधिकांश हलवाई खोया, पनीर, मावा तथा दूध के उत्पादों को सहारनपुर अन्य कई बड़े शहरों से ट्रेन के माध्यम से मंगवा रहे हैं। जिससे स्वास्थ्य के साथ होने वाले खिलवाड़ के लिए प्रशासन की तरफ से कोई ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे। 

 

गांव से लेकर जिला के हर बाजार में मिलावट का यह खेल चल रहा है और जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग इससे अनजान बना हुआ है। खुलेआम बिक रही मिलावटी व रंग-बिरंगी मिठाइयों की जांच के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने अभी तक कोई भी निरीक्षण टीम का गठन तक नहीं किया गया है। 

ये बीमारियां हो सकती हैं

ऊना अस्पताल के एसएमओ डॉक्टर रामपाल का कहना है कि मिलावटी खाद्य पदार्थो के सेवन से पीलिया, टायफाइड, पेट में इंफेक्शन, फूड प्वाइजनिंग इत्यादि बीमारियां हो सकती हैं। इसलिए ऐसी मिठाईयों को खाने से अपना बचाव करें। 

हक के लिए भटक रहा पूर्व सैनिक का परिवार, मांग रहा है इंसाफ की भीख

विभाग सतर्क है : डॉ. रमन

डॉक्टर रमन कुमार शर्मा ने कहा कि फूड सेफ्टी इंस्पेक्टर ने ड्यूटी ज्वाइन कर ली है। अब जल्द ही जिलेभर में सैंपल लेने का काम व्यापक स्तर पर शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग इसके प्रति सचेत है। 

दिवाली पर निगम कर्मियों की बल्ले-बल्ले, मिला ये खास तोहफा

हिमाचल की अन्य खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप