संवाद सहयोगी, ऊना : खेल को किसी भी उम्र में बढि़या तरीके से खेला जा सकता है और इसमें नाम चमकाया जा सकता है। यह सीख मास्टर खिलाड़ियों से ली जा सकती है। लगातार मैदान पर प्रतिभा के जौहर दिखाने वाले ये खिलाड़ी अपने आप में मिसाल हैं। यह बात वीरवार को एडीसी ऊना डा. अमित कुमार शर्मा ने जिला के मास्टर खिलाड़ियों के स्वागत करने के दौरान कही। हाल ही में प्रदेश स्तर पर हुई एथलेटिक्स प्रतियोगिता में ऊना जिला के मास्टर खिलाड़ियों ने मेडल हासिल किए हैं। प्रतियोगिता में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाकर लौटे खिलाड़ियों का अतिरिक्त उपायुक्त ने गर्मजोशी से स्वागत किया। उन्हें युवाओं के लिए प्रेरणा स्त्रोत करार दिया।

जिले का प्रतिनिधित्व कर रहे इन खिलाड़ियों में एक दंपती भी शामिल रहा जिन्होंने 50 वर्ष से अधिक उम्र वर्ग में जिले के लिए स्वर्ण पदक जीते हैं। चड़तगढ़ निवासी अवतार सिंह और उनकी पत्नी यशपाल कौर ने प्रदेशस्तरीय मास्टर प्रतियोगिता में उम्दा प्रदर्शन किया। अवतार सिंह ने जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीता जबकि 400 मीटर दौड़ में कांस्य पदक हासिल किया। उनकी पत्नी यशपाल कौर ने 5000 मीटर वाक रेस और 400 मीटर दौड़ में स्वर्ण पदक जीते। डंगोली निवासी और पशुपालन विभाग में फार्मासिस्ट रमेश कुमार ने 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 100 मीटर रेस में सिल्वर और 200 व 400 मीटर दौड़ में कांस्य पदक जीते। अम्ब उपमंडल के चूरूड़ू निवासी बलवीर सिंह खनवाल ने 55 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 200 और 400 मीटर रेस में स्वर्ण पदक जीते। 1500 मीटर दौड़ में उन्होंने रजत पदक अपने नाम किया।

Edited By: Jagran