जागरण संवाददाता, हरोली : जिला के हरोली विधानसभा क्षेत्र के तहत कांगड़ गांव में एक दस वर्षीय बच्चे की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। गुरमेल व उसकी पत्नी ममता किसी उद्योग में कार्यरत हैं। मंगलवार को यह दंपती ड्यूटी पर गया हुआ था। उनका बेटा जश्न, जो कि चौथी कक्षा में पढ़ता है, स्कूल में अवकाश होने की चलते घर में ही था। उसकी बहन ननिहाल बट्ट खुर्द में गई हुई थी। जब शाम को दंपती लौटा तो देखा कि घर में कमरे का दरवाजा बंद है और अंदर उनका बेटा बेड पर लेटा हुआ था। उन्होंने दरवाजा खोलने की काफी कोशिश की, लेकिन नहीं खुला। इसके बाद पड़ोसी भी उनके घर पहुंच गए। सभी ने मिलकर दरवाजा तोड़ा। उसके बाद कमरे में दाखिल हुए तो बच्चे को बेहोश देखकर सन्न रह गए। इसके बाद हरोली पुलिस थाना को सूचना दी गई। एसएचओ रमन कुमार चौधरी पुलिस टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने पाया कि कमरे में टीवी चला हुआ था और टीवी का रिमोट बेड पर बच्चे के पास पड़ा हुआ था। बच्चे का गला प्लास्टिक स्ट्रिप से घुटा हुआ था। पुलिस ने प्लास्टिक स्ट्रिप समेत कुछ अन्य सामान को कब्जे में लिया है। मामले की गहनता से जांच करने के लिए फॉरेंसिक टीम ने भी मौके पर पहुंचकर कुछ अहम साक्ष्य जुटाए हैं।

------------

हरोली पुलिस ने मामला दर्ज करके आगामी जांच शुरू कर दी है। पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों के हवाले कर दिया है। बच्चे की मौत मामले की जांच के लिए फॉरेंसिक टीम को बुलाया गया है।

-दिवाकर शर्मा, पुलिस अधीक्षक।

--------------

मां ने हत्या की जताई आशंका

इस मामले को लेकर पुलिस थाना हरोली में हंगामा भी हुआ। बच्चे की मौत को लेकर उसकी मां ममता ने कई तरह के सवाल उठाए हैं। उसने आशंका जताई है कि उसके पति व ससुराल पक्ष के लोगों ने बेटे को मारा है। उसने मांग की है कि मौत की जांच गंभीरता से की जाए। पुलिस ने अपने स्तर पर मामले को शांत करते हुए उच्चस्तरीय जांच कराने का भरोसा दिलाया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप