सोलन, जागरण संवाददाता। जिला सोलन के परवाणू में सोमवार रात को क्रेन आॅपरेटर की हत्‍या कर फरार हुए युवकों को पुलिस ने दिल्‍ली से दबोच लिया है। घटना के बाद दिल्‍ली के यह छह आरोपित युवक फरार चल रहे थे। सोलन पुलिस ने बुधवार को इन्‍हें दिल्‍ली से गिरफतार करने में सफलता हासिल की। गौर हो कि दिल्‍ली से एक एसयूवी कार में हिमाचल की तरफ आए इन युवाओं ने गाडी खराब होने पर क्रेन हायर की थी। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच सोमवार रात को बहसबाजी हुई थी।

आरोप है कि बहसबाजी के दौरान युवकों ने ऑपरेटर की पिटाई की व उसे उठाकर खाई में फेंक दिया था। खाई में गिरने से क्रेन ऑपरेटर मंडी जिला निवासी मदन लाल की मौत हो गई थी। हालांकि पुलिस इस मामले में 302 के तहत जांच कर रही है, लेकिन सही बात का पता आज शाम को आरोपितों से पूछताछ के बाद ही चल सकेगा।

बता दें कि एसयूवी कार में दिल्‍ली से यह छह लोग शिमला घूमने आए थे और कालका के निकटवर्ती क्षेत्र में उनकी कार खराब हो गई थी। खराब कार को दिल्‍ली ले जाने के लिए उन्‍होंने यह क्रेन हायर की थी। इस मामले के आरोपितों के पकड़े जाने की पुष्टि करते हुए एएसपी सोलन डाॅक्‍टर शिव कुमार ने कहा कि पुलिस की टीम ने फरार चल रहे क्रेन चालक की हत्‍या के मामले के आरोपित युवाओं को गिरफतार कर लिया है। इन्‍हें पकड कर परवाणू पुलिस स्‍टेशन लाया जा रहा है। पूछताछ के लिए उन्‍हें पहले कोर्ट में पेश किया जाएगा और पुलिस रिमांड लिया जाएगा। उसके बाद उनसे पूछताछ की जाएगी और हत्‍या के सही कारणों का पता चल सकेगा।

जिला मंडी के सलापड़ स्थित क्रेन ऑपरेटर के घर पर उसकी मां और बहन का रो-रोकर बुरा हाल है। बुजुर्ग मां बेटे के विवाह के सपने संजोये बैठे थी। लेकिन मनचलों ने उनके बेटे को सदा के लिए उनसे अलग कर दिया। मदन लाल पहले बहन की शादी करवाने की बात मां से करता था।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस